धार्मिक भावनाएं भड़काने के आरोपी विधायक आरिफ मसूद ने जारी किया वीडियो, कहा-मैं फरार नहीं हूं

Religious feelings MLA Arif Masood
दिनेश शुक्ल । Nov 22, 2020 11:55AM
जारी किए गए वीडियो में विधायक आरिफ मसूद कहते हैं कि मैंने हाई कोर्ट में अपील की है। अगर वहां से जमानत नहीं मिलती है, तो मैं कोर्ट में सरेंडर कर दूंगा। वीडियो में मसूद ने कहा कि हिन्दू बहनों के घर-घर राखियां पहुंचाई। कई वर्षों से दीपावली पर्व पर साड़ियां भाई के रूप में बहनों को पहुंचाने का काम किया है।

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के इकबाल मैदान पर फ्रांस के राष्ट्रपति के खिलाफ प्रदर्शन कर धार्मिक भावनाएं भड़काने के मामले के आरोपित कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद की अग्रिम जमानत याचिका पर अब हाईकोर्ट 25 नवम्बर को सुनवाई करेगा। इधर, मसूद का एक वीडियो जारी हुआ है, जिसमें वो कह रहे हैं कि मैं फरार नहीं हूं। मेरे खिलाफ झूठा मामला दर्ज किया है। 

इसे भी पढ़ें: खाद के लिए परेशान हो रहे किसान, लगी लम्बी-लम्बी लाइनें

जारी किए गए वीडियो में विधायक आरिफ मसूद कहते हैं कि मैंने हाई कोर्ट में अपील की है। अगर वहां से जमानत नहीं मिलती है, तो मैं कोर्ट में सरेंडर कर दूंगा। वीडियो में मसूद ने कहा कि हिन्दू बहनों के घर-घर राखियां पहुंचाई। कई वर्षों से दीपावली पर्व पर साड़ियां भाई के रूप में बहनों को पहुंचाने का काम किया है। सरकार इनकी साफ सुथरी छवि को देखते हुए उसे धूमिल करने के उद्देश्य से इस प्रकार के झूठे प्रकरण लगा रही है। उन्हें बदनाम करने की कोशिश कर रही है। हमें माननीय न्यायालय पर पूरा भरोसा है हमें न्यायालय में इंसाफ मिलेगा। 

इसे भी पढ़ें: लॉकडाउन से प्रभावित पुजारियों और केशकारों की पूर्व मंत्री ने की आर्थिक सहायता

गौरतलब है कि तलैया पुलिस ने इस मामले में पहले धारा 144 के उल्लंघन का केस दर्ज किया था, लेकिन बाद में धार्मिक भावनाएं भड़काने की धाराओं में मसूद समेत 7 लोगों पर एफआईआर की गई। अब तक इस मामले में विधायक को छोड़ सभी 6 आरोपी सलाखों के पीछे पहुंच चुके हैं। विधायक के करीबी अब्दुल नफीस ने बताया कि हाई कोर्ट अग्रिम जमानत पर 25 को फैसला करेगा।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़