कृषि कानूनों, बीएसएफ के अधिकार क्षेत्र को बढ़ाने के विरोध में विधानसभा में प्रस्ताव लाएगी शिअद

Sukhbir Singh Badal
प्रतिरूप फोटो
पंजाब मंत्रिमंडल ने केंद्र द्वारा बीएसएफ के अधिकार क्षेत्र को अंतरराष्ट्रीय सीमा से 50 किलोमीटर तक बढ़ाने का विरोध करने के लिए विधानसभा को आठ नवंबर को बुलाने को बुधवार को मंजूरी दी।

चंडीगढ़|  शिरोमणि अकाली दल (शिअद) ने बुधवार को कहा कि केंद्र के तीन कृषि कानूनों और बीएसएफ के अधिकार क्षेत्र को बढ़ाने की अधिसूचना के क्रियान्वयन को रोकने के वास्ते सदन द्वारा राज्य मंत्रिमंडल को निर्देश देने के लिए पार्टी, पंजाब विधानसभा के आगामी सत्र में एक प्रस्ताव लाएगी।

सुखबीर सिंह बादल ने राजपुरा में एक जनसभा के दौरान कहा, “हम सदन से एक निष्प्रभावी समाधान की बजाय एक निर्देश चाहते हैं। हम सदन से एक निर्देश की मांग करेंगे कि उसके निर्णय को मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी लागू करें।”

इसे भी पढ़ें: बीएसएफ का अधिकार क्षेत्र बढ़ने के फैसले पर विपक्षी दलों ने केंद्र पर साधा निशाना

पंजाब मंत्रिमंडल ने केंद्र द्वारा बीएसएफ के अधिकार क्षेत्र को अंतरराष्ट्रीय सीमा से 50 किलोमीटर तक बढ़ाने का विरोध करने के लिए विधानसभा को आठ नवंबर को बुलाने को बुधवार को मंजूरी दी।

बादल ने कहा कि जिस तरह अमरिंदर सिंह ने बीएसएफ के अधिकार क्षेत्र को बढ़ाने के केंद्र के फैसले को उचित ठहराया उससे यह पता चलता है कि पंजाब कांग्रेस ने केंद्र के साथ मिलकर इसे संभव बनाया।

इसे भी पढ़ें: बीएसएफ के अधिकार क्षेत्र का विस्तार सीमावर्ती राज्यों की भलाई के लिए है: भाजपा

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़