मौत के बुखार पर SC की फटकार, मोदी-नीतीश सरकार से 7 दिन में मांगा जवाब

By अभिनय आकाश | Publish Date: Jun 24 2019 11:37AM
मौत के बुखार पर SC की फटकार, मोदी-नीतीश सरकार से 7 दिन में मांगा जवाब
Image Source: Google

कोर्ट ने उत्तर प्रदेश का हवाला देते हुए कहा कि वहां भी कुछ ऐसी ही स्थिति पर सुधार कैसे आया। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट में मनोहर प्रताप और सनप्रीत सिंह अजमानी की ओर से याचिका दाखिल की गई थी। जिसमें सरकारी तंत्र को फेल बताते हुए कोर्ट से बिहार सरकार को मेडिकल सुविधा बढ़ाने के आदेश देने की अपील की गई थी।

नई दिल्ली। बिहार में इन्सैफेलाइटिस यानि चमकी नामक बुखार से टूट रही सांसों की डोर और मातम, गम व रोष के बीच देश की सर्वोच्च अदालत ने संज्ञान लिया है। सुप्रीम कोर्ट ने बिहार में बच्चों की मौत पर केंद्र और राज्य सरकार को फटकार लगाते हुए सात दिन के अंदर जवाब दाखिल करने को कहा है। कोर्ट ने सरकार से तीव्र इन्सेफेलाइटिस सिंड्रोम से पीड़ित बच्चों के लिए सार्वजनिक स्वास्थ्य, पोषण और स्वच्छता से संबंधित सुविधाओं का विवरण पेश करने को कहा है। कोर्ट ने इसे मूल अधिकार बताते हुए कहा कि ये मिलना चाहिए। 

इसे भी पढ़ें: बिहार में कम नहीं हो रहा चमकी बुखार का कहर, अबतक 130 बच्चों की मौत

कोर्ट ने उत्तर प्रदेश का हवाला देते हुए कहा कि वहां भी कुछ ऐसी ही स्थिति पर सुधार कैसे आया। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट में मनोहर प्रताप और सनप्रीत सिंह अजमानी की ओर से याचिका दाखिल की गई थी। जिसमें सरकारी तंत्र को फेल बताते हुए कोर्ट से बिहार सरकार को मेडिकल सुविधा बढ़ाने के आदेश देने की अपील की गई थी।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप