शिवराज सिंह बोले मध्‍य प्रदेश कोरोना की तीसरी लहर से निपटने को पूरी तरह तैयार

शिवराज सिंह बोले मध्‍य प्रदेश कोरोना की तीसरी लहर से निपटने को पूरी तरह तैयार

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का कहना था कि प्रदेश में पॉजिटिविटी रेट निरंतर कम हो रहा है। हम तब तक चैन से नहीं बैठेंगे जब तक कोरोना समाप्त नहीं हो जाता। सरकार पूरी क्षमता से कोविड से लड़ाई लड़ रही है।

भोपाल। मध्य प्रदेश से कोरोना को पूरी तरह समाप्त करने के लिए सभी को मिलकर पूरी क्षमता से काम करना होगा। प्रदेश में कोरोना वायरस (कोविड-19) की तीसरी लहर आने की जो बात की जा रही है, उससे निपटने के लिए राज्‍य सरकार पूरी तरह से तैयार हैं। यह बात मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने बुधनी में आयोजित समीक्षा बैठक में रविवार को कहीं।  

 

इसे भी पढ़ें: मध्य प्रदेश के सागर जिले में बच्चों पर टूटा कोरोना का कहर, एक माह में ही 302 बच्चे हुए संक्रमित

चौहान ने कहा कि वार्ड एवं गाँव को जागरूक करना होगा। इसके लिए गाँव एवं वार्ड स्तर पर बनी क्राइसिस मैनेजमेंट समिति के सदस्य लोगों को निरंतर जागरूक करने का काम करें। उन्होंने कहा कि अधिक से अधिक सैंपलिंग और टेस्टिंग की जाये। क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी के सदस्य लोगों को योग और प्राणायाम के लिए प्रेरित करें। इसके साथ ही गाँव में किसी को भी सर्दी, जुकाम, बुखार हो तो उसे तुरंत जाँच एवं उपचार के लिए कोविड सेंटर या अस्पताल भिजवाना सुनिश्चित करें। 

 

इसे भी पढ़ें: मध्य प्रदेश में व्हाईट फंगस ने दी दस्तक, ग्वालियर में पहला मरीज आया सामने

उन्‍होंने अधिकारियों से कहा कि कोरोना पॉजिटिव व्यक्तियों के घरों को माइक्रो कंटेंनमेंट बनाया जाए और यह सुनिश्चित किया जाए कि कोरोना संक्रमित घर से बाहर न निकले। उन्होंने किल-कोरोना अभियान पूरी गंभीरता के साथ जारी रखने के लिए कहा। इसके साथ ही होम आइसोलेशन में कोविड मरीजों की नियमित जाँच एवं उपचार तथा काउंसलिंग सुनिश्चित की जाए।

 

इसे भी पढ़ें: कमलनाथ ने सीएम शिवराज पर कसा तंज, कोरोना से हुई मौतों को लेकर किया सवाल

मुख्यमंत्री ने कहा कि ब्लैक फंगस के इलाज के लिए सरकार समुचित व्यवस्था कर रही है। उन्होंने एक जून से अभियान चलाकर वैक्सीनेशन करने के लिए कहा। उन्होंने बैठक में उपस्थित जनप्रतिनिधियों से कहा कि कोरोना को समाप्त करने के लिए सक्रिय योगदान दें। यह सुनिश्चित किया जाये कि गाँव में कोई भी व्यक्ति बीमार हो तो उसे अविलंब उपचार मिले। उन्होंने कहा कि महामारी विशेषज्ञों द्वारा कोरोना की तीसरी लहर की संभावना व्यक्त की गई है। प्रदेश सरकार इसके लिए पूरी तैयारी कर रही है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का कहना था कि प्रदेश में पॉजिटिविटी रेट निरंतर कम हो रहा है। हम तब तक चैन से नहीं बैठेंगे जब तक कोरोना समाप्त नहीं हो जाता। सरकार पूरी क्षमता से कोविड से लड़ाई लड़ रही है। उन्‍होंने बताया कि बुधनी में 300 बिस्तरों का कोविड केयर सेंटर बनने के बाद क्षेत्र के लोगों को त्वरित लाभ एवं उपचार की सुविधा मिल सकेगी। 

 

इसे भी पढ़ें: उज्जैन के निजी हॉस्पिटल की नर्स के साथ ऑपरेशन थियेटर कर्मचारी ने किया दुष्कर्म

इस दौरान मुख्यमंत्री चौहान ने बुधनी में निर्माणाधीन कोविड केयर सेंटर का निरीक्षण किया। यह कोविड केयर सेंटर 300 बिस्तरों का है और सभी बिस्तर ऑक्सीजन युक्त हैं। इसमें कोविड के उपचार की सभी सुविधाएँ उपलब्ध रहेंगी। निरीक्षण के दौरान  चौहान ने संबंधित अधिकारियों से कहा कि कोरोना मरीजों के समुचित इलाज की दृष्टि से सभी आवश्यक सुविधाएँ उपलब्ध कराई जाएँ। कोविड केयर सेंटर में पर्याप्त चिकित्सा स्टाफ की उपलब्धता भी सुनिश्चित करने के निर्देश दिये। मुख्यमंत्री का कहना है कि महामारी विशेषज्ञों द्वारा तीसरी लहर की संभावना व्यक्त की गई है। इसको दृष्टिगत रखते हुए बच्चों के लिए 50 बिस्तरों का अलग से कोविड वार्ड बनाया जाये।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...