श्यामा प्रसाद मुखर्जी का नजरिया सही साबित हुआ जबकि जवाहर लाल नेहरू का नजरिया विफल: जेटली

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Aug 6 2019 5:45PM
श्यामा प्रसाद मुखर्जी का नजरिया सही साबित हुआ जबकि जवाहर लाल नेहरू का नजरिया विफल: जेटली
Image Source: Google

पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा कि मोदी और गृह मंत्री अमित शाह ने इतिहास में अपनी जगह बनाई है। जेटली ने कहा कि इस कदम को लेकर ‘लोकप्रिय समर्थन’ था जिस कारण से कई विपक्षी पार्टियां इसकी हिमायत करने को मजबूर हुईं, क्योंकि उन्हें जमीनी सच्चाई की समझ थी और वे लोगों के गुस्से का सामना नहीं करना चाहती थी।

नयी दिल्ली। भाजपा के वरिष्ठ नेता अरूण जेटली ने मंगलवार को कहा कि कश्मीर मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी स्पष्टता और दृढ़ दृष्टिकोण से इतिहास रचा है। उन्होंने यह भी कहा कि पार्टी के विचारक श्यामा प्रसाद मुखर्जी का नजरिया सही साबित हुआ जबकि जवाहर लाल नेहरू का नजरिया ‘विफल’ हुआ। जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के सरकार के कदम के बाद जेटली ने ब्लॉग लिखा है जिसमें इसका विरोध करने पर कांग्रेस पर तंज कसा गया है।

इसे भी पढ़ें: अद्भुत जीत, लोगों ने राजे-रजवाड़ों, वंशवाद और जातिवाद की राजनीति को खारिज किया: जेटली

पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा कि मोदी और गृह मंत्री अमित शाह ने इतिहास में अपनी जगह बनाई है। जेटली ने कहा कि इस कदम को लेकर ‘लोकप्रिय समर्थन’ था जिस कारण से कई विपक्षी पार्टियां इसकी हिमायत करने को मजबूर हुईं, क्योंकि उन्हें जमीनी सच्चाई की समझ थी और वे लोगों के गुस्से का सामना नहीं करना चाहती थी। उन्होंने कहा कि आज जब इतिहास फिर से लिखा जा रहा है। इसने फैसला दिया है कि डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी का कश्मीर पर नजरिया ठीक था जबकि पंडित जवाहर लाल नेहरू ने जिस तरह के समाधान का सपना देखा था, वो विफल साबित हुआ है... प्रधानमंत्री ने स्पष्टता और दृढ़ता से इतिहास बनाया है। 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video