स्मृति का विपक्ष पर तंज, लक्ष्मी हाथ पकड़कर या लालटेन के संग नहीं बल्कि कमल पर सवार होकर आती हैं

smriti irani
स्मृति ने कहा कि बिहार को नया और विकसित देखना है तो राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन को जिताएं। उन्होंने अपने संबोधन के दौरान विपक्षी राजद पर निशाना साधा और राजग सरकार की उपलब्धियां गिनायीं।
पटना]। केंद्रीय मंत्री एवं भाजपा की वरिष्ठ नेता स्मृति ईरानी ने कांग्रेस और राजद पर तंज करते हुए शनिवार को कहा कि लक्ष्मी हाथ पकड़कर या लालटेन के संग नहीं आतीं बल्कि कमल पर सवार होकर आती हैं, इसलिये लोग भाजपा के पक्ष में मतदान करें। बिहार में चुनावी रैलियों को संबोधित करते हुए स्मृति ईरानी ने कहा, जब मनुष्य भगवान की आराधना करता है, मां भगवती से आशीर्वाद मांगता है तो बिहार का स्वाभिमानी नागरिक कहता है कि मां, बाजुओं में इतना बल दे कि मैं दो हाथों से दो जून की इज्जत की रोटी कमा सकूं।’’ राजद पर चुटकी लेते हुए भाजपा नेता ने कहा ‘‘ बिहार का स्वाभिमानी नागरिक कभी भगवान से यह नहीं कहता है कि भगवान मुझे भी मौका दे कि मैं चारा घोटाले में पैसा कमा सकूं।’’ स्मृति ने कहा ‘‘बिहार का नागरिक जब मां लक्ष्मी से आशीर्वाद मांगता है तो कहता है कि मां, बस मेरे बाजुओं में इतना दम दे कि भरण-पोषण अपने परिवार का इज्जत से कर सकूं।’’ भाजपा उम्मीदवार को जिताने की अपील करते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा, ‘‘जब लोग लक्ष्मी के सामने शीश झुकाते हैं तो पाते हैं कि जब लक्ष्मी घर आती हैं तो कांग्रेस का हाथ पकड़कर नहीं आतीं। लक्ष्मी जब घर आती हैं तो लालटेन संग नहीं लातीं, बल्कि लक्ष्मी आती हैं तो कमल पर बैठकर आती हैं। इसलिए लक्ष्मी को घर लाना है तो कमल का बटन दबाना है। 

इसे भी पढ़ें: नीतीश 15 साल से CM, डबल इंजन की सरकार भी, लेकिन भ्रष्टाचार नहीं हुआ दूर: तेजस्वी

गौरतलब है कि हाथ का निशान कांग्रेस का चुनाव चिन्ह है जबकि लालटेन राजद का और कमल भाजपा का चुनाव निशान है। स्मृति ने कहा कि बिहार को नया और विकसित देखना है तो राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन को जिताएं। उन्होंने अपने संबोधन के दौरान विपक्षी राजद पर निशाना साधा और राजग सरकार की उपलब्धियां गिनायीं।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़