राष्ट्रपति पर टिप्पणी को लेकर सोनिया गांधी का बयान- माफी मांग चुके हैं अधीर रंजन चौधरी

Sonia Gandhi
ANI
अंकित सिंह । Jul 28, 2022 11:50AM
सोनिया गांधी की ओर से भी इस मुद्दे पर बयान आया है। सोनिया गांधी से इस मुद्दे पर सवाल पूछा गया जवाब में सोनिया गांधी ने कहा कि उन्होंने माफी मांग ली है। केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि स्पष्ट रूप से लोकसभा के विपक्ष के नेता का उद्देश्य नवनिर्वाचित राष्ट्रपति का अपमान करना था।

राष्ट्रपति को लेकर कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी के बयान पर राजनीतिक बवाल मचा हुआ है। भाजपा संसद से लेकर सड़क तक अधीर रंजन चौधरी घेरने की तैयारी में है। केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने भी जबरदस्त तरीके से कांग्रेस आलाकमान पर हमला किया है। दूसरी ओर अधीर रंजन चौधरी की भी सफाई आ गई है। उन्होंने साफ तौर पर कहा कि मैं जानता हूं कि भारत की राष्ट्रपति चाहे कोई भी हो वे हमारे लिए राष्ट्रपति ही हैं। ये शब्द बस एक बार निकला है। ये चूक हुई है। लेकिन सत्ताधारी पार्टी के कुछ लोग राई का पहाड़ बना रहे हैं। उन्होंने सहा कि कल मुझसे गलती से ये(राष्ट्रपत्नी) शब्द निकला था। लेकिन भाजपा कांग्रेस आलाकमान और सोनिया गांधी पर निशाना साध रही है।

इसे भी पढ़ें: यूक्रेन जल रहा है लेकिन राष्ट्रपति ज़ेलेंस्की अपनी पत्नी के साथ फोटोशूट कराने में व्यस्त हैं, नेटिज़न्स ने किया ट्रोल

यही कारण है कि सोनिया गांधी की ओर से भी इस मुद्दे पर बयान आया है। सोनिया गांधी से इस मुद्दे पर सवाल पूछा गया जवाब में सोनिया गांधी ने कहा कि उन्होंने माफी मांग ली है। केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि स्पष्ट रूप से लोकसभा के विपक्ष के नेता का उद्देश्य नवनिर्वाचित राष्ट्रपति का अपमान करना था। जो एक स्व-निर्मित महिला हैं, एक आदिवासी पृष्ठभूमि से आती हैं। पूरा भारत उनका समर्थन कर रहा है। 'राष्ट्रपत्नी' शब्द का प्रयोग कहीं नहीं होता है। उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति शब्द पुरुषों और महिलाओं दोनों के लिए समान रूप से इस्तेमाल होता है। संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने कहा कि यह एक सामान्यज्ञान है। ये बहुत बड़ा अपमान है, ये राष्ट्र का अपमान है। सोनिया गांधी और अधीर रंजन चौधरी को माफी मांगनी चाहिए। 

इसे भी पढ़ें: पाकिस्तान के राष्ट्रपति ने परवेज इलाही को पंजाब के मुख्यमंत्री पद की शपथ दिलायी

फिलहाल कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने CPP कार्यालय में पार्टी के वरिष्ठ नेताओं की तत्काल बैठक बुला ली है। पार्टी नेता मल्लिकार्जुन खड़गे और अधीर रंजन चौधरी को भी बुलाया गया। वहीं, केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने जबरदस्त तरीके से अधीर रंजन चौधरी के बहाने कांग्रेस नेतृत्व पर सवाल उठाए हैं। केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा कि जब से द्रौपदी मुर्मू का नाम राष्ट्रपति के उम्मीदवार के रूप में घोषित हुआ तब से ही द्रौपदी मुर्मू कांग्रेस पार्टी की घृणा और उपहास का शिकार बनीं। कांग्रेस पार्टी ने उन्हें कठपुतली कहा, अशुभ और अमंगल का प्रतीक कहा। स्मृति ईरानी ने कहा कि कांग्रेस आज भी इस बात को स्वीकार नहीं कर पा रही कि एक आदिवासी महिला इस देश के सर्वोच्च संवैधानिक पद को सुशोभित कर रही हैं।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़