केजरीवाल के अयोध्या दौरे पर फिर से चर्चा में आए राम मंदिर को लेकर दिए उनके तीन बयान, बीजेपी ने कहा- अपनी नानी को पहुंचाई ठेस

केजरीवाल के अयोध्या दौरे पर फिर से चर्चा में आए राम मंदिर को लेकर दिए उनके तीन बयान, बीजेपी ने कहा- अपनी नानी को पहुंचाई ठेस

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने श्रीराम जन्मभूमि में विराजमान रामलला और हनुमानगढ़ी में हनुमान जी का दर्शन पूजन किया। दर्शन पूजन करने के बाद उन्होंने हनुमानगढ़ी के गद्दीनशीन महंत से भी मुलाकात कर आशीर्वाद लिया।

यूपी में 2022 का शंखनाद भले ही अभी न हुआ हो लेकिन चुनावी महाभारत शुरू हो चुकी है। एक बात तो साफ है कि उत्तर प्रदेश के चुनाव का केंद्र बिन्दु अयोध्या रहेगा। भगवान राम से लेकर अयोध्या तक सियासत का सफर हो चुका है और तमाम दलों का अयोध्या प्रेम भी देखने को मिल रहा है।  आम आदमी पार्टी अयोध्या से फुल चुनावी मोड में आना चाहती है, लेकिन इसका जमकर विरोध किया जा रहा है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने श्रीराम जन्मभूमि में विराजमान रामलला और हनुमानगढ़ी में हनुमान जी का दर्शन पूजन किया। दर्शन पूजन करने के बाद उन्होंने हनुमानगढ़ी के गद्दीनशीन महंत से भी मुलाकात कर आशीर्वाद लिया।

इसे भी पढ़ें: अयोध्या पहुंचे दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, राम जन्मभूमि के किए दर्शन

केजरीवाल के अयोध्या दौरे को लेकर विरोधियों द्वारा ये आरोप लगाया जा रहा है कि उन्होंने हमेशा अयोध्या और श्री राम का विरोध किया और अब जब भव्य श्री राम जन्मभूमि मंदिर बन रहा है तो वह चुनावी लाभ लेने के लिए अयोध्या आ रहे हैं।  इससे पहले वो कहां थे ? बीजेपी के प्रवक्ता संबित पात्रा ने अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधते हुए कहा कि आज केजरीवाल जी ने अपनी “नानी” को ठेस पहुँचाया है। उन्होंने ट्विटर पर लिखा कि केजरीवाल ने सिर्फ नानी ही नहीं, जवाहरलाल नेहरू भी नाराज़ होंगे। बड़े-बुजुर्गों का ऐसा असम्मान करना ठीक नहीं “सरजी”। इसके साथ ही संबित पात्रा ने  46 सेकेंड का एक वीडियो क्लिप भी शेयर किया जिसमें केजरीवाल राम मंदिर को लेकर बयान देते नजर आ रहे हैं। 

राम मंदिर को लेकर केजरीवाल के तीन चर्चित बयान 

  • केजरीवाल ये कहते हुए सुनाई पड़ते हैं कि जब बाबरी मस्जिद का ध्वंस हुआ तब मैंने नानी से पूछा कि अब तो आप बड़े खुश होगे। अब तो राम का मंदिर बनेगा। वो बोलीं ना बेटा मेरा राम किसी मस्जिद को तोड़कर ऐसे मंदिर में नहीं बस सकता।
  • एक दूसरे बयान में केजरीवाल कहते हुए सुनाई पड़ रहे हैं कि अब ये बार-बार पिछले एक महीने से बीजेपी ने कहना चालू कर दिया मंदिर वहीं बनाएंगे। हम कहते हैं जी कब बनाओगे? कहते हैं डेट नहीं बताएंगे। लेकिन हर पांच साल में कहते हैं मंदिर वहीं बनाएंगे।
  • मैं सोच रहा था कि अगर जवाहर लाल नेहरू जी स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया की जगह मंदिर बना देते तो क्या इस देश का विकास हो सकता था? 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।