सुप्रिया सुले ने मांडविया से चीन में पढ़ाई कर रहे छात्रों के लिए मदद मांगी

Supriya Sule
ANI Images.
सुले ने 13 अप्रैल को लिखे पत्र में कहा, “चीन में भारतीय छात्रों के शिष्टमंडल और विदेशी चिकित्सा स्नातक अभिभावक संघ (एफएमजीपीए) से मैंने मुलाकात की। उनकी कुछ मांगें हैं… आपसे अनुरोधहै कि इस मामले को देखें और हमारे छात्रों की मदद करें।” सुले ने मांडविया को लिखे इस पत्र की प्रति बुधवार को अपने ट्विटर खाते पर साझा की।

मुंबई|  राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी की सांसद सुप्रिया सुले ने चीन में चिकित्सा की पढ़ाई कर रहे छात्रों के लिए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया की सहायता मांगी है। इन छात्रों ने मांग की है कि उन्हें चीन वापस जाकर ऑफलाइन पढ़ाई करने के लिए मदद की जाए और तब तक भारत में प्रायोगिक कक्षा के वास्ते इंतजाम किये जाएं।

मांडविया को लिखे पत्र में सुले ने कहा कि उक्त छात्र भारत में ऑनलाइन माध्यम से लेक्चर में शामिल हो रहे हैं और चीन की सीमायें खुलने को लेकर जारी अनिश्चितता के कारण परेशान हैं। कोविड-19 महामारी फैलने के बाद चीन में सभी विश्वविद्यालय बंद कर दिए गए थे और बड़ी संख्या में छात्रों को भारत लौटना पड़ा था। चीन ने महामारी के मद्देनजर 27 मार्च 2020 से वीजा और आवास परमिट निलंबित कर यात्रा पर प्रतिबंध लगा दिया था।

सुले ने 13 अप्रैल को लिखे पत्र में कहा, “चीन में भारतीय छात्रों के शिष्टमंडल और विदेशी चिकित्सा स्नातक अभिभावक संघ (एफएमजीपीए) से मैंने मुलाकात की। उनकी कुछ मांगें हैं… आपसे अनुरोध है कि इस मामले को देखें और हमारे छात्रों की मदद करें।” सुले ने मांडविया को लिखे इस पत्र की प्रति बुधवार को अपने ट्विटर खाते पर साझा की।

छात्रों और एफएमजीपीए ने सुले को लिखे पत्र में कहा कि छात्रों की मांग है कि उनके चीन लौटने का इंतजाम किया जाए और जब तक ऐसा नहीं हो जाता तब तक उन्हें भारत में प्रायोगिक कक्षाएं उपलब्ध कराई जाएं।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़