ठाणे में जीवित व्यक्ति का बना दिया मृत्यु प्रमाण पत्र, फोन करके ले जाने को कहा

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जुलाई 2, 2021   08:33
ठाणे में जीवित व्यक्ति का बना दिया मृत्यु प्रमाण पत्र, फोन करके ले जाने को कहा

एक अधिकारी ने बताया कि भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) से प्राप्त आंकड़ों के अनुसार, 22 अप्रैल, 2021 को उनकी मृत्यु हो गई थी। मृत्यु प्रमाण पत्र में उल्लेख किया गया है कि वह दस महीने पहले एक कोविड रोगी थे।

ठाणे। महाराष्ट्र के ठाणे में 55 वर्षीय उक शिक्षक को उस वक्त झटका लगा जब इस सप्ताह की शुरूआत में उसे ठाणे नगर निगम की ओर से फोन आया कि उनका मृत्यु प्रमाण पत्र तैयार है और वह आकर इसे ले जाएं। शहर के निवासी चंद्रशेखर जोशी जबटीएमसी कार्यालय गए, तो उन्हें कथित तौर पर एक अधिकारी ने बताया कि भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) से प्राप्त आंकड़ों के अनुसार, 22 अप्रैल, 2021 को उनकी मृत्यु हो गई थी। मृत्यु प्रमाण पत्र में उल्लेख किया गया है कि वह दस महीने पहले एक कोविड रोगी थे।

इसे भी पढ़ें: दिल्ली में कोविड रोधी टीके की करीब 79 लाख खुराक दी गईं:बुलेटिन

इस घटना से हतप्रभ जोशी ने बृहस्पतिवार को यहां संवाददाताओं से कहा कि वह वास्तव में अक्टूबर 2020 में कोरोना संक्रमित हुए थे, लेकिन घर में पृथक-वास करके वह ठीक हो गए थे। निगम अधिकारियों से इस संबंध में कई बार प्रतिक्रिया लेने की कोशिश की गई, लेकिन वे उपलब्ध नहीं हुए।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...