चिन्मयानंद से रंगदारी मांगने की आरोपी छात्रा की जमानत पर 30 सितम्बर को होगी सुनवाई

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  सितंबर 26, 2019   17:38
चिन्मयानंद से रंगदारी मांगने की आरोपी छात्रा की जमानत पर 30 सितम्बर को होगी सुनवाई

चिन्मयानंद पर बलात्कार का आरोप लगाने वाली विधि छात्रा ने पूर्व गृह राज्यमंत्री से पांच करोड़ रुपये रंगदारी मांगने के मामले में मंगलवार को अपनी गिरफ्तारी की आशंका जताते हुए अग्रिम जमानत के लिए मुख्य न्यायिक दण्डाधिकारी की अदालत में अर्जी दी थी।

शाहजहांपुर। पूर्व केन्द्रीय गृह राज्य मंत्री चिन्मयानंद से रंगदारी मांगने के आरोप में गिरफ्तार विधि छात्रा की जमानत अर्जी पर 30 सितम्बर को सुनवाई होगी।चिन्मयानंद पर बलात्कार का इल्जाम लगाने वाली इस छात्रा के अधिवक्ता अनूप त्रिवेदी ने बृहस्पतिवार को  भाषा  को बताया कि उसकी जमानत की अर्जी आज जिला जज राम बाबू शर्मा की अदालत में दाखिल की गई थी जिस पर सुनवाई के लिये अदालत ने 30 सितंबर की तारीख मुकर्रर की है।इसी छात्रा के यौन शोषण के आरोप में जेल में बंद पूर्व केंद्रीय गृह राज्य मंत्री चिन्मयानंद की भी जमानत की अर्जी पर 30 सितंबर को ही सुनवाई होनी है।त्रिवेदी ने बताया कि छात्रा को कल गिरफ्तार कर जेल भेजा गया था उसके बाद अदालत में उसकी जमानत की अर्जी दाखिल की गयी थी, जिसे खारिज कर दिया गया था।

इसे भी पढ़ें: चिन्मयांनद पर बलात्कार का आरोप लगाने वाली लड़की की गिरफ्तारी पर बोलीं प्रियंका, वाह रे भाजपा का न्याय

वहीं दूसरी ओर, छात्रा द्वारा अग्रिम जमानत की अर्जी दाखिल की गई थी जिसमें अदालत ने प्रकरण की जांच कर रही विशेष जांच टीम (एसआईटी) को 26 सितम्बर को साक्ष्यों के साथ आने को कहा था। हालांकि इसमें खबर लिखे जाने तक कोई फैसला नहीं आया था। मालूम हो कि चिन्मयानंद पर बलात्कार का आरोप लगाने वाली विधि छात्रा ने पूर्व गृह राज्यमंत्री से पांच करोड़ रुपये रंगदारी मांगने के मामले में मंगलवार को अपनी गिरफ्तारी की आशंका जताते हुए अग्रिम जमानत के लिए मुख्य न्यायिक दण्डाधिकारी की अदालत में अर्जी दी थी। अदालत ने सुनवाई के लिए 26 सितंबर की तिथि मुकर्रर की थी लेकिन इससे पहले ही एसआईटी ने बुधवार को छात्रा को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था।इसी छात्रा ने चिन्मयानंद पर बलात्कार का आरोप लगाया था। इस मामले में पूर्व गृह राज्य मंत्री को गिरफ्तार किया जा चुका है। 





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...