दिल्ली में हर विधानसभा क्षेत्र में बनेंगे 3 MCD वार्ड, इस तरह होगा चुनाव

delhi city
Creative Commons licenses
दिल्ली में 250 वार्ड के परिसीमन की प्रक्रिया वर्ष 2011 की जनगणना के आंकड़ों के आधार पर शुरू की गई है। समिति ने बृहस्पतिवार को प्रमुख हितधारकों के साथ बैठक के बाद अपने बयान में कहा, ‘‘प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र को कम से कम तीन वार्ड में विभाजित किया जाएगा।

दिल्ली में हर विधानसभा क्षेत्र को नगर निगम चुनाव से पहले की जाने वाली परिसीमन की कवायद के दौरान कम से कम तीन वार्ड में विभाजित किया जाएगा। एक आधिकारिक बयान में यह जानकारी दी गई। अधिकारियों ने कहा कि परिसीमन के बाद हर वार्ड में अनुमानित आबादी के करीब 65-67 हजार के बीच रहने की संभावना है। दिल्ली के तीन पूर्व नगर निगमों के तहत कुल 272 वार्ड थे, जिनमें से उत्तरी और दक्षिणी निगमों में से हर में 104 वार्ड थे, जबकि पूर्व निगम में 64 वार्ड थे।

इसे भी पढ़ें: दिल्ली में तापमान के अंतर के लिए शहरीकरण मुख्य कारण : सरकार

परिसीमन समिति के अध्यक्ष विजय देव ने कहा कि दिल्ली में 250 वार्ड के परिसीमन की प्रक्रिया वर्ष 2011 की जनगणना के आंकड़ों के आधार पर शुरू की गई है। समिति ने बृहस्पतिवार को प्रमुख हितधारकों के साथ बैठक के बाद अपने बयान में कहा, ‘‘प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र को कम से कम तीन वार्ड में विभाजित किया जाएगा। निगम में एक वार्ड की सीमा विधानसभा क्षेत्र की सीमा के भीतर बनाई जाएगी और इसे पार नहीं किया जाएगा।’’

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़