रेलगाड़ियों का रास्ता भटकना सरकार के अच्छे दिन का ‘जादू’ है: सीताराम येचुरी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मई 28, 2020   21:22
रेलगाड़ियों का रास्ता भटकना सरकार के अच्छे दिन का ‘जादू’ है: सीताराम येचुरी

लगाड़ियों के रास्ता भटकनें से जुड़ी खबरों पर रेल विभाग ने कहा है कि उसने 22 मई और 24 मई को उत्तर प्रदेश एवं बिहार जाने वाली कई श्रमिक ट्रेनों का मार्ग बदला था क्योंकि इन राज्यों की तरफ 80 फीसदी रेल यातायात था।

नयी दिल्ली। मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के महासचिव सीताराम येचुरी ने बृहस्पतिवार को कहा कि कोरोना वायरस महामारी के समय रेलगाड़ियों का रास्ता भटकना नरेंद्र मोदी सरकार के अच्छे दिनों का ‘जादू’ है। दूसरी तरफ, रेलगाड़ियों के रास्ता भटकनें से जुड़ी खबरों पर रेल विभाग ने कहा है कि उसने 22 मई और 24 मई को उत्तर प्रदेश एवं बिहार जाने वाली कई श्रमिक ट्रेनों का मार्ग बदला था क्योंकि इन राज्यों की तरफ 80 फीसदी रेल यातायात था।

येचुरी ने ट्वीट कर आरोप लगाया, ‘‘मोदी सरकार सिर्फ अमीरों के लिए काम करती है। वह गरीबों का मजाक बनाती है और नागरिकों को उनके अधिकारों से वंचित रखती है।’’ उन्होंने तंज कसते हुए कहा, ‘‘कई दशकों से भारतीय रेल सही से चल रही थी। यह मोदी सरकार के अच्छे दिन का ‘जादू’ है कि रेलगाड़ियां भी रास्ता भटक रही हैं।’’ माकपा नेता ने दावा किया कि यह सिर्फ सरकार का कुप्रबंधन ही नहीं है, बल्कि गरीब विरोधी मानिसकता भी है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।