ब्रिटेन से इंदौर लौटा एक और व्यक्ति कोराना वायरस से संक्रमित, परिवार के साथ किया गया होम क्वारंटीन

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  दिसंबर 26, 2020   16:42
ब्रिटेन से इंदौर लौटा एक और व्यक्ति कोराना वायरस से संक्रमित, परिवार के साथ किया गया होम क्वारंटीन

जिले के महामारी रोकथाम नोडल अधिकारी अमित मालाकार ने संवाददाताओं से कहा कि हमें शनिवार सुबह मिली रिपोर्ट में 39 वर्षीय पुरुष कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया है। यह व्यक्ति छह दिसंबर को ब्रिटेन से इंदौर लौटा था।

इंदौर। ब्रिटेन में कोरोना वायरस का नया प्रकार सामने आने के बाद इस देश से 20 दिन पहले इंदौर लौटा 39 वर्षीय एक पुरुष शनिवार को महामारी से पीड़ित पाया गया। यह शहर का दूसरा व्यक्ति है जिसमें ब्रिटेन से लौटने के बाद कोरोना वायरस संक्रमण मिला है। अधिकारियों ने हालांकि कहा कि अभी यह स्पष्ट नहीं है कि दोनों मरीज ब्रिटेन में सामने आए कोरोना वायरस के नए स्वरूप से संक्रमित हैं या पहले से मौजूद वायरस से संक्रमित हैं। जिले के महामारी रोकथाम नोडल अधिकारी अमित मालाकार ने संवाददाताओं से कहा कि हमें शनिवार सुबह मिली रिपोर्ट में 39 वर्षीय पुरुष कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया है। यह व्यक्ति छह दिसंबर को ब्रिटेन से इंदौर लौटा था।  

इसे भी पढ़ें: अहमदाबाद नगर निगम ने कोरोना टीका के पंजीकरण के लिए ऑनलाइन सुविधा शुरू की 

उन्होंने कहा कि इंदौर के उपनगरीय राऊ क्षेत्र से ताल्लुक रखने वाले इस मरीज की हालत फिलहाल ठीक है। उसे और उसके परिवार के सदस्यों को उनके घर में पृथक-वास में रखा गया है। उनकी हालत पर हमारी निगाह बनी हुई है। मालाकार ने बताया कि शुक्रवार को इंदौर निवासी 29 वर्षीय एक और व्यक्ति भी कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया था। यह व्यक्ति स्कॉटलैंड से दिल्ली होता हुआ 18 दिसंबर को इंदौर लौटा था। 

इसे भी पढ़ें: साल 2020 में कोरोना महामारी के बीच मनाए गए त्यौहार तो मास्क में दिखाई दिए भक्त

उन्होंने बताया कि यह पता लगाने के लिए दोनों मरीजों के नमूने दिल्ली स्थित राष्ट्रीय रोग नियंत्रण केंद्र (एनसीडीसी) भेजे जा रहे हैं कि कहीं वे कोरोना वायरस के उसी नए प्रकार से तो संक्रमित नहीं हैं जो ब्रिटेन में सामने आया है। गौरतलब है कि इंदौर, राज्य में कोविड-19 से सबसे ज्यादा प्रभावित जिला है। करीब 35 लाख की आबादी वाले जिले में 24 मार्च से लेकर 25 दिसंबर तक महामारी के कुल 53,624 मरीज मिले हैं। इनमें से 857 मरीजों की मौत हो चुकी है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।