• वैक्सीनेशन अभियान को मिला भारतीय सेना का साथ, LoC से सटे गांव में लगाई जा रही वैक्सीन

सीमावर्ती गांवों में भारतीय सेना की मदद से वैक्सीनेशन अभियान चलाकर लोगों को कोरोना वायरस की वैक्सीन लगाई जा रही है। लोगों को घर-घर जाकर वैक्सीन लगवाने के लिए जागरूक किया जा रहा है।

जम्मू। कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ जंग में वैक्सीन ही अहम हथियार है और अब वैक्सीनेशन अभियान को तेजी से चलाने के लिए सेना भी मदद में जुट गई है। बता दें कि जम्मू-कश्मीर के राजौरी जिले के नियंत्रण रेखा के पास स्थित गांवों में भारतीय सेना की मदद से वैक्सीनेशन अभियान चलाया गया। भारतीय सेना के जवानों ने लोगों को घर-घर जाकर जागरुक किया। 

इसे भी पढ़ें: चिदंबरम बोले- पहले जम्मू-कश्मीर को पूर्ण राज्य का दर्जा मिले और फिर हो चुनाव 

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक सीमावर्ती गांवों में भारतीय सेना की मदद से वैक्सीनेशन अभियान चलाकर लोगों को कोरोना वायरस की वैक्सीन लगाई जा रही है। लोगों को घर-घर जाकर वैक्सीन लगवाने के लिए जागरूक किया जा रहा है। वृद्ध और विकलांग लोगों को घर जाकर वैक्सीन लगाई जा रही है।

वहीं, कलाल पंचायत के सरपंच रमेश चौधरी ने बताया कि यह बॉर्डर क्षेत्र है। मेरी पंचायत में 45 से अधिक उम्र के सभी लोगों को वैक्सीन लगा दी गई है। सेना ने कैंप लगाया था और हमारा बहुत साथ दिया। 18-45 साल की उम्र के लोगों को वैक्सीन लगाई जा रही है। 

इसे भी पढ़ें: जम्मू-कश्मीर पर सर्वदलीय बैठक सकारात्मक कदम, चुनाव से पहले मिले पूर्ण राज्य का दर्जा: कर्ण सिंह 

गौरतलब है कि जम्मू-कश्मीर में अबतक कोरोना वैक्सीन की 42,33,882 डोज लगाई जा चुकी है। कोविन एप के जरिए यह आंकड़ा एकत्रित किया गया है। इससे अलावा केंद्र शासित प्रदेश में शुक्रवार को कोरोना के 498 नए दर्ज किए गए, जिसके बाद संक्रमितों की संख्या बढ़कर 3,13,974 हो गई। जबकि सात और लोगों की मौत के साथ ही अब तक मरने वालों की संख्या 4,291 हो गई है।