विजय रूपाणी ने PM मोदी को बताया, गुजरात में कोरोना की स्थिति नियंत्रण में

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 24, 2020   17:33
विजय रूपाणी ने PM मोदी को बताया, गुजरात में कोरोना की स्थिति नियंत्रण में

एक आधिकारिक विज्ञप्ति के मुताबिक रूपाणी ने बैठक के दौरान कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने के लिए राज्य सरकार के विभिन्न कदमों के बारे में भी अवगत कराया। प्रधानमंत्री मोदी ने मंगलवार को उन राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक कर कोविड-19 की ताजा स्थिति की समीक्षा की जहां हाल के दिनों में संक्रमण के मामलों में तेजी आई है।

अहमदाबाद। गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए मंगलवार को हुई बैठक में उन्हें बताया कि राज्य में कोविड-19 की स्थिति नियंत्रण में है और मरीजों के लिए पर्याप्त संख्या में बेड उपलब्ध हैं। एक आधिकारिक विज्ञप्ति के मुताबिक रूपाणी ने बैठक के दौरान कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने के लिए राज्य सरकार के विभिन्न कदमों के बारे में भी अवगत कराया। प्रधानमंत्री मोदी ने मंगलवार को उन राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक कर कोविड-19 की ताजा स्थिति की समीक्षा की जहां हाल के दिनों में संक्रमण के मामलों में तेजी आई है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार ने संक्रमित मरीजों की पहचान के लिए जांच तेज कर दी है और अहमदाबाद, राजकोट, वडोदरा और सूरत में रात्रिकालीन कर्फ्यू भी लगाया है। विज्ञप्ति में कहा, ‘‘मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री को आश्वस्त किया कि स्थिति नियंत्रण में है और कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों के लिए पर्याप्त संख्या में बेड उपलब्ध हैं।’’ राज्य के स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक राज्य में 23 नवंबर को संक्रमितों की संख्या 1,98,899 और मृतकों की संख्या 3876 हो गयी। 

प्रधानमंत्री को रूपाणी ने बताया कि कोविड-19 मरीजों के पृथक-वास के लिए उपलब्ध कुल 55,000 बेड में से 45,000 बेड खाली हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि वायरस के प्रसार पर रोक लगाने के लिए शादी समारोह में अब केवल 100 अतिथियों को आने की अनुमति होगी और अंतिम संस्कार के दौरान अधिकतम 50 लोग रह सकेंगे। संक्रमितों का जल्द पता लगाने के लिए आरटी-पीसीआर और एंटीजन तरीके से जांच भी बढ़ा दी गयी है और सोमवार को करीब 70,000 नमूनों की जांच की गयी।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।