शिवसेना-NCP-कांग्रेस ने राज्यपाल को भेजे पत्र में कहा, हमारे पास आवश्यक आंकड़ा है

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 25, 2019   12:31
शिवसेना-NCP-कांग्रेस ने राज्यपाल को भेजे पत्र में कहा, हमारे पास आवश्यक आंकड़ा है

तीन दलों के चुनाव पश्चात बने गठबंधन ‘महा विकास अघाड़ी’ ने दावा किया कि उनके पास बहुमत है जबकि हाल में शपथ ले चुके मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के पास सरकार गठन के लिए विधायकों का आवश्यक आंकड़ा नहीं है।

मुंबई। शिवसेना, राकांपा और कांग्रेस के नेताओं ने सोमवार को महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी के पास एक पत्र भेजा जिसमें उन्होंने दावा किया है कि राज्य में सरकार गठन के लिए आवश्यक आंकड़ा उनके पास है। पत्र पर शिवसेना, राकांपा और कांग्रेस के विधायक दल के नेताओं एकनाथ शिंदे, जयंत पाटिल और बालासाहेब थोराट के हस्ताक्षर हैं।

इसे भी पढ़ें: महाराष्ट्र में अभी क्या कुछ चल रहा है, जानने के लिए पढ़ें पूरा घटनाक्रम

तीन दलों के चुनाव पश्चात बने गठबंधन ‘महा विकास अघाड़ी’ ने दावा किया कि उनके पास बहुमत है जबकि हाल में शपथ ले चुके मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के पास सरकार गठन के लिए विधायकों का आवश्यक आंकड़ा नहीं है। दलों ने पत्र में लिखा, ‘‘विश्वास मत में फडणवीस के बहुमत साबित करने में असफल होने के बाद सरकार गठन के शिवसेना के दावे पर विचार करना चाहिए।’’

इसे भी पढ़ें: केंद्र ने SC में कहा, फडणवीस सरकार को NCP के सभी विधायकों का है समर्थन

उन्होंने कहा, ‘‘हमने शिवसेना के दावे का समर्थन कर रहे राकांपा और कांग्रेस के विधायकों के नाम की सूची संलग्न की है। इसके अलावा कई छोटे दलों और निर्दलीय विधायकों की सूची भी है जिन्होंने हमें समर्थन दिया है। सरकार गठन के लिए हमें तत्काल बुलाया जाना चाहिए।’’ मुंबई में शनिवार को राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने राजभवन में सुबह आठ बजे भाजपा के देवेंद्र फडणवीस को मुख्यमंत्री और राकांपा के अजीत पवार को उप मुख्यमंत्री पद की शपथ दिलवाई थी।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।