इस वजह से भारतीय वायुसेना के हीरो अभिनंदन को भारत लौटेने में लगा समय

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Mar 2 2019 4:15PM
इस वजह से भारतीय वायुसेना के हीरो अभिनंदन को भारत लौटेने में लगा समय
Image Source: Google

रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी सहित कई नेताओं ने अभिनंदन के स्वदेश लौटने का स्वागत किया।

वाघा। पाकिस्तानी विमानों द्वारा भारतीय वायुसीमा के उल्लंघन के दौरान अदम्य वीरता का प्रदर्शन करने वाले विंग कमांडर अभिनंदन शुक्रवार रात को पाकिस्तान से स्वदेश वापस लौट आए। उनकी वापसी से पहले के कुछ घंटे संशय से भरे रहे। इस कदम को आतंकवाद का पाकिस्तान से जारी समर्थन पर भारत के जवाब के बाद उत्पन्न तनाव की स्थिति को कम करने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम के तौर पर देखा जा रहा है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अभिनंदन की वापसी का स्वागत करते हुए ट्वीट में कहा, ‘‘विंग कमांडर अभिनंदन आपका घर में स्वागत है। राष्ट्र को आपके अदम्य साहस पर गर्व है। हमारे सशस्त्र बल देश के 130 करोड़ भारतीयों के लिये प्रेरणा का स्रोत हैं।’’ विंग कमांडर अभिनंदन की स्वदेश वापसी पर पूरे देश की निगाहें वाघा बॉर्डर पर दिनभर लगी रहीं। वायुसेना अधिकारी अभिनंदन वर्द्धमान के पाकिस्तान की हिरासत से मुक्त होकर लौटने के बीच भारी संख्या में मीडियाकर्मियों की नजर इस पर थी और पूरे देश के लोग टीवी सेट पर टकटकी लगाये हुए थे। अटारी बाघा सीमा के पास चेकपोस्ट पर सुबह से ही लोग तिरंगा लिये जमा थे। उनमें से अनेक अपना चेहरा तिरंगे के रंग से रंगे थे और विंग कमांडर अभिनंदन की सुरक्षित वापसी के समर्थन में नारे भी लगा रहे थे और जश्न का माहौल था। 

गौरतलब है कि भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तानी सीमा में जैश ए मोहम्मद के ठिकानों को निशाना बनाया। उसके बाद पाकिस्तानी वायुसेना की ओर से भारत की वायुसीमा का उल्लंघन किया गया और इस दौरान हुए हवाई संघर्ष में पाकिस्तान का एक एफ16 विमान गिरा दिया गया एवं भारत का मिग 21 दुर्घटनाग्रस्त हो गया । इस संघर्ष के परिणामस्वरूप विंग कमांडर अभिनंदन का पैराशूट सीमा पर बढ़ गया और उन्हें 27 फरवरी को पाकिस्तान ने पकड़ लिया। पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने अपनी संसद में कहा था कि वह शांति के संदेश के तौर पर भारतीय पायलट को रिहा कर रहे हैं। विंग कमांडर अभिनंदन रात 9 बजकर 10 मिनट पर पाकिस्तान की ओर वाघा चेकपोस्ट पर दिखे और उनके साथ पाकिस्तानी रेंजर, इस्लामाबाद में उच्चायोग में भारतीय एयर अताशे मौजूद थे। वे गहरे रंग का कोट और खाकी रंग की पैंट पहने हुए थे। गर्व से सिर ऊंचा किये विंग कमांडर अभिनंदन ने पाकिस्तान से गेट पार करके भारत में प्रवेश किया। 

इसे भी पढ़ें: अब बदल जाएगा अभिनंदन का अर्थ, मोदी बोले- ये भारत की ताकत है

अमृतसर के उपायुक्त शिव दुलार सिंह ढिल्लों ने कहा कि बहादुर पायलट अपने देश लौटकर खुश है।यह पूछे जाने पर कि अभिनंदन ने स्वदेश लौटने पर अधिकारियों से क्या कहा, उपायुक्त ने कहा कि वह पहले मुस्कुराए और बोले, ‘‘मैं अपने देश वापस लौटकर खुश हूं।’’ उपायुक्त ने कहा कि वाघा अटारी सीमा पर कुछ औपचारिकताओं के बाद उन्हें बीएसएफ अधिकारियों को सौंप दिया गया। बाद में वायुसेना के अधिकारी अपने साथ अभिनंदन को लेकर आए। इसके बाद विंग कमांडर को अटारी सीमा से वायुसेना के वाहन में अमृतसर की तरफ लाया गया। इस दौरान पंजाब पुलिस की गाड़ियां उनके वाहन के साथ चल रही थीं। उपायुक्त ने कहा कि अधिकारी के माता पिता चैकपोस्ट पर मौजूद नहीं थे। वर्धमान को हवाई मार्ग से दिल्ली लाया जा रहा है और शनिवार को सैन्य एवं खुफिया एजेंसियों के अधिकारियों की मौजूदगी में उनकी शारीरिक जांच होगी। रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी सहित कई नेताओं ने अभिनंदन के स्वदेश लौटने का स्वागत किया।

इसे भी पढ़ें: पाकिस्तान का प्लान नंबर 2 अब भारतीय सैनिकों के खाने में जहर मिलाएगा



वाइस चीफ मार्शल आर जी के कपूर ने अमृतसर के पास अटारी में कहा कि वायुसेना के पायलट अभिनंदन को अभी अभी हमें सौंपा गया है । उन्होंने कहा कि हम उन्हें वापस पाकर खुश हैं ।उन्होंने कहा कि पायलट को विस्तृत चिकित्सीय परीक्षण के लिये ले जाया जायेगा क्योंकि उन्हें काफी तनाव के क्षणों से गुजरना पड़ा। पाकिस्तानी सूत्रों के अनुसार, पायलट अभिनंदन को भारत को सौंपे जाने में देरी इसलिए हुई क्योंकि उनसे पाकिस्तानी अधिकारियों ने कैमरे पर बयान दर्ज करने को कहा। इसके बाद ही उन्हें सीमा पार करके स्वदेश जाने दिया गया। हालांकि यह स्पष्ट नहीं है कि उन्हें दबाव में कैमरे के सामने बयान देने को कहा गया या नहीं। इस वीडियो में सात कट हैं जो संकेत देते हैं कि इसे परोक्ष रूप से पाकिस्तानी रुख के अनुरूप करने के लिए इसमें बहुत काट-छांट की गई। पाकिस्तान सरकार ने रात साढ़े आठ बजे (भारतीय समयानुसार रात नौ बजे) पायलट का वीडियो संदेश स्थानीय मीडिया को जारी किया। इस वीडियो में अभिनंदन ने बताया कि उसे कैसे पकड़ा गया। एक सूत्र ने कहा, ‘‘उनका वीडियो संदेश रिकार्ड करने से उसे भारत को सौंपने में देरी हुई।’’

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video