बिहार में लगातार बढ़ रहे कोरोना के मामले, अब तक 3,000 से अधिक व्यक्ति संक्रमित

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मई 27, 2020   17:09
बिहार में लगातार बढ़ रहे कोरोना के मामले, अब तक 3,000 से अधिक व्यक्ति संक्रमित

स्वास्थ्य विभाग के अनुसार तीन मई से अबतक कोरोना वायरस के जो मामले सामने आए हैं, उनमें प्रवासी श्रमिकों की संख्या 1900 रही है, जो इस अवधि में सामने आए मामलों का लगभग 80 प्रतिशत है।

पटना। बिहार में बुधवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 38 नये मामलों के प्रकाश में आने के साथ ही प्रदेश में कोविड-19 के मामले बढकर 3006 हो गये हैं। स्वास्थ्य विभाग से प्राप्त जानकारी के मुताबिक कोरोना वायरस संक्रमण के नये मामलों में अररिया के 14, मधेपुरा के नौ, सारण एवं दरभंगा के चार-चार, सहरसा के तीन, बेगूसराय के दो, वैशाली एवं किशनगंज के एक-एक मामले शामिल हैं। गौरतलब है कि बिहार में कोरोना वायरस संक्रमण से अबतक कुल 14 मरीजों की मौत हो चुकी है। 

इसे भी पढ़ें: कोविड-19 के कारण भारत में 18,000 लोगों की हो सकती है मौत: महामारी विशेषज्ञ 

बिहार में अब तक कोरोना वायरस संक्रमण के सबसे अधिक 217 मामले पटना में आए हैं जबकि रोहतास में 201, बेगूसराय में 159, मुंगेर में 148, मधुबनी में 176, खगडिया में 143, कटिहार में 134, बक्सर में 114, जहानाबाद में 112, बांका में 106, गोपालगंज में 99, नालंदा में 91, भागलपुर में 95, पूर्वी चंपारण में 83, नवादा में 71, दरभंगा में 70, सिवान में 66, समस्तीपुर में 63, वैशाली में 60, औरंगाबाद 59, सहरसा में 58, सुपौल में 55, गया में 53, मधेपुरा एवं शेखपुरा में 52, कैमूर में 49, भोजपुर एवं सारण में 47-47, पूर्णिया में 45, पश्चिम चंपारण में 42, सीतामढी में 39, मुजफ्फरपुर में 38, अरवल में 34, लखीसराय एवं किशनगंज में 32-32, जमुई में 29, अररिया में 28 तथा शिवहर में एक मामला प्रकाश में आया है। 

इसे भी पढ़ें: और दो हफ्तों के लिए बढ़ सकता हैं लॉकडाउन, इन 11 शहरों पर रहेगा पूरा ध्यान 

स्वास्थ्य विभाग के अनुसार तीन मई से अबतक कोरोना वायरस के जो मामले सामने आए हैं, उनमें प्रवासी श्रमिकों की संख्या 1900 रही है, जो इस अवधि में सामने आए मामलों का लगभग 80 प्रतिशत है। बिहार में कोरोना वायरस संक्रमितों में महाराष्ट्र से आए 447, दिल्ली से आए 428, गुजरात से आए 287, हरियाणा से आए 166, उत्तर प्रदेश से आए 103, राजस्थान से आए 102, पश्चिम बंगाल से आए 85 और तेलंगाना से आए 84 प्रवासी शामिल हैं। सूचना एवं जनसंपर्क विभाग के सचिव अनुपम कुमार के अनुसार 1026 श्रमिक स्पेशल ट्रेन से 15.41 लाख प्रवासी श्रमिक लाकडाउन के दौरान बिहार में वापस आए हैं और अन्य 5.29 लाख लोग 321 विशेष ट्रेनों से आने वाले हैं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।