जम्मू में ड्रोन हमला: स्थानीय लोगों ने कहा, धमाके की जोरदार आवाज से इलाका थर्राया

Woke Up To Deafening Sounds: Locals On Drone Strike At Jammu Air Base
शहर के बाहरी छोर पर स्थित सतवारी इलाके में स्थित इस स्थान की देखरेख का जिम्मा वायुसेना उठाती है। दूसरा विस्फोट छह मिनट बाद जमीन पर हुआ।

जम्मू। जम्मू हवाई अड्डा परिसर में स्थित भारतीय वायुसेना स्टेशन के आस पास रहने वाले स्थानीय लोगों की नींद शनिवार-रविवार की देर रात जोरदार धमाके की आवाज से खुली। पाकिस्तान के आतंकवादियों ने इस अहम सैन्य प्रतिष्ठान पर ड्रोन से दो बम गिराये। अधिकारियों ने बताया कि विस्फोट में वायुसेना के दो कर्मी घायल हुए हैं। घटना देर रात करीब एक बजकर 40 मिनट पर हुई और करीब छह मिनट के भीतर दूसरा धमाका हुआ। पहले विस्फोट में उच्च सुरक्षा वाले हवाई प्रतिष्ठान के तकनीकी क्षेत्र में एक इमारत की छत को नुकसान हुआ। शहर के बाहरी छोर पर स्थित सतवारी इलाके में स्थित इस स्थान की देखरेख का जिम्मा वायुसेना उठाती है। दूसरा विस्फोट छह मिनट बाद जमीन पर हुआ।

इसे भी पढ़ें: जम्मू में संदिग्ध आतंकी गिरफ्तार, पुलिस ने जब्त किया 5.5 किलो आईईडी

वायु सेना स्टेशन के पास स्थित एक इलाके में रहने वाले इंद्रजीत सिंह ने बताया, ‘‘जोरदार धमाके से हमारी नींद खुली। इससे पूरा इलाका थर्रा उठा और लोग खौफ में आ गये।’’ विस्फोट की आवाज सुनकर बेलीचरण, कर्ण-बाग, गद्दीगर, बोहरकैंप और सतवारी से कई लोग वायु सेना स्टेशन पहुंचे। उन्हें बिल्कुल अंदाजा नहीं था कि विस्फोट ड्रोन से किया गया है। यह पहली बार है जब पाकिस्तान स्थित आतंकवादियों ने इस तरह के मानवरहित और रिमोट संचालित वाहन से किसी महत्वपूर्ण प्रतिष्ठान को निशाना बनाया है। सतवारी के सून नाथ ने कहा कि यह चिंता का विषय है क्योंकि इस तरह का हमला इससे पहले कभी नहीं हुआ था।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़