योगी आदित्यनाथ का पंजाब सरकार पर हमला, कहा- अपराधियों को संरक्षण क्यों दे रही

Yogi Adityanath attacked Punjab government
बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी को पंजाब से उत्तर प्रदेश वापस लाने में हीलाहवाली पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कांग्रेस को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश की जनता को यह बताएं कि राज्य का गुनहगार आखिर किस कारण से पंजाब में संरक्षण पा रहा है?

लखनऊ। बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी को पंजाब से उत्तर प्रदेश वापस लाने में हीलाहवाली पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कांग्रेस को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश की जनता को यह बताएं कि राज्य का गुनहगार आखिर किस कारण से पंजाब में संरक्षण पा रहा है? मुख्तार अंसारी का नाम लिए बिना बुधवार को विधानसभा में योगी ने राज्यपाल के अभिभाषण पर चर्चा के दौरान कहा कि उत्तर प्रदेश में अपराधियों और माफियाओं के लिए अब कोई जगह नहीं है। जो माफिया पहले की सरकार में बैठ कर गौरव की अनुभूति करते थे, वही अब उप्र में अपने अस्तित्‍व को बचाने के लिए जूझ रहे हैं।

इसे भी पढ़ें: भारत के सीरम इंस्टिट्यूट के साथ मिलकर काम करेगी दवा कम्पनी नोवावैक्स

उन्होंने आरोप लगाया कि दूसरी तरफ पंजाब की कांग्रेस सरकार उप्र के माफियाओं पर मेहरबान है। उन्‍हें बचाने की कोशिश में लगी है, ऐसा करना न्‍यायपालिका के कार्य में हस्तक्षेप का अनैतिक प्रयास है। इस बीच, उत्तर प्रदेश सरकार ने बुधवार को उच्चतम न्यायालय से कहा कि पंजाब सरकार गैंगस्टर से नेता बने मुख्तार अंसारी का ‘‘बेशर्मी’’ से बचाव कर रही है और विभिन्न मामलों में मुकदमों की सुनवाई का सामना करने के लिए उसे उत्तर प्रदेश नहीं भेज रही है। अंसारी रंगदारी के एक कथित मामले में पंजाब के रूपनगर जिला जेल में बंद है। राज्यपाल के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव के सम्बंध में चर्चा करते हुए विपक्षी दलों द्वारा प्रदेश की कानून-व्यवस्था पर उठाए गए सवालों पर एनसीआरबी की रिपोर्ट के हवाले से मुख्यमंत्री ने कहा कि साल 2016 के सापेक्ष वर्ष 2020 में अपराधों में बहुत कमी आई है।

इसे भी पढ़ें: जेपी नड्डा ने सोनार बांग्ला अभियान की शुरुआत की, बोले- भ्रष्टाचार मुक्त और विकास युक्त बंगाल बनाएंगे

उन्होंने कहा कि 2016 की अपेक्षा आज यूपी में डकैती के मामलों में 67.68 प्रतिशत, लूट में 66.39 प्रतिशत, हत्या में 25.88 प्रतिशत, बलवा में 30.25 प्रतिशत और फिरौती के लिए अपहरण जैसे मामलों में 41.51 प्रतिशत की कमी आई है। मुख्‍यमंत्री ने कहा कि महिलाओं की सुरक्षा प्रदेश सरकार की शीर्ष प्राथमिकता है। उन्नाव में जो घटना हुई, उसका पर्दाफाश हो चुका है। फिर भी कुछ लोग इसमें राजनीति करने में जुटे हैं। उन्होंने कहा कि हमने सोशल मीडिया के पूरे मामले को देखा है कि 85 फीसदी ट्वीट उत्तर प्रदेश के बाहर से थे और दुनिया के उन देशों के भी थे, जो भारत के हितैषी नहीं हैं। पाकिस्तान और बांग्लादेश से ट्वीट आए। योगी ने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण देश की न्यायपालिका के प्रति विश्वास की जीत है। राम मंदिर निर्माण में पूरे देश से लोग सहर्ष सहयोग कर रहे हैं।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़