बैन के बाद फिर गरजे योगी आदित्यनाथ, माया- मुलायम की जोड़ी पर कसा तंज

yogi-said-mayawati-is-campaigning-for-those-who-insulted-babasaheb
योगी ने कहा कि पहले गरीबों को मकान देने की बात होती थी तो सपा-बसपा की सरकार कहती थी कि पैसा नहीं है। इनके राज में किसान बदहाल था, भुखमरी का आलम था, जो भी पैसा था वो भ्रष्टाचार में खत्म हो जाता था।

बिजनौर (उप्र)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को बसपा सुप्रीमो मायावती पर निशाना साधते हुए कहा कि वह उन लोगों के लिए चुनाव प्रचार कर रही हैं, जो लोग बाबा साहेब भीमराव आंबेडकर का अपमान करते थे। योगी ने यहां एक चुनावी जनसभा में कहा,  आप देख सकते हैं कि राजनीति किस स्तर पर चली गई है। जो लोग बाबा साहेब का अपमान करते थे, आज उनके लिए मायावती चुनाव प्रचार कर रही हैं। जो लोग भारत का सम्मान नहीं करते हों, वो लोग वोट पाने लायक नहीं हैं। उल्लेखनीय है कि मायावती ने आज सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के साथ रामपुर लोकसभा सीट से गठबंधन प्रत्याशी आजम खां (सपा) के समर्थन में संयुक्त रैली की।

इसे भी पढ़ें: प्रचार पर रोक के दौरान देवीपाटन मंदिर में योगी आदित्यनाथ ने की पूजा अर्चना

योगी ने कहा कि पहले गरीबों को मकान देने की बात होती थी तो सपा-बसपा की सरकार कहती थी कि पैसा नहीं है। इनके राज में किसान बदहाल था, भुखमरी का आलम था, जो भी पैसा था वो भ्रष्टाचार में खत्म हो जाता था। उन्होंने कहा कि प्रदेश के अंदर दो करोड़ 60 लाख लोगों को  स्वच्छ भारत अभियान  के तहत शौचालय दिया गया। तीन करोड़ 55 लाख लोगों को राशन कार्ड उपलब्ध कराए गए।

योगी ने कहा,  मोदी जी ने विकास कार्य के लिए किसी की जाति नहीं देखी। धर्म के आधार पर विकास नहीं किया, सबका साथ-सबका विकास के मंत्र पर काम किया गया। मुख्यमंत्री ने कहा कि गन्ना किसानों के मूल्य का भुगतान किया गया। सरकार बनाने के समय 64 हजार करोड़ रूपये का गन्ना मूल्य बकाया था। छह सालों से गन्ना किसानों को पैसा नहीं मिला था। हमारी सरकार ने इसका भुगतान किया।

इसे भी पढ़ें: उमा भारती के बिगड़े बोल, कहा- प्रियंका गांधी वाड्रा चोर की पत्नी

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़