वीनस को हराने के बाद 15 वर्षीय गौफ ने कहा, मेरा लक्ष्य विंबलडन जीतना

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jul 2 2019 4:17PM
वीनस को हराने के बाद 15 वर्षीय गौफ ने कहा, मेरा लक्ष्य विंबलडन जीतना
Image Source: Google

गौफ ने कहा, ‘‘मेरा लक्ष्य यहां खिताब जीतना है। मैं पहले भी यह कह चुकी हूं। मैं महानतम बनना चाहती हूं। जब मैं आठ साल की थी तो मेरे पिताजी ने कहा था कि मैं ऐसा कर सकती हूं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैं अब भी यह चाहती हूं, भले ही शत प्रतिशत आश्वस्त नहीं हूं।

लंदन। कोरी गौफ का जब जन्म हुआ तब तक वीनस विलियम्स विंबलडन में दो एकल खिताब जीत चुकी थी और अब पांच बार की चैंपियन को पहले दौर में हराने के बाद इस 15 वर्षीय किशोरी का लक्ष्य यह ग्रैंडस्लैम टेनिस टूर्नामेंट जीतकर इतिहास रचना है। अमेरिका की किशोरी हमवतन वीनस के खिलाफ किसी तरह की परेशानी में नहीं दिखी। विश्व में 313वें नंबर की गौफ ने अपने से 24 वर्ष बड़ी वीनस को आसानी से 6-4, 6-4 से हराया। इसके बाद गौफ ने टूर्नामेंट को लेकर अपनी महत्वकांक्षाओं को भी नहीं छिपाया। 

इसे भी पढ़ें: हस्तक्षेप नहीं कर सके, लेकिन राजनीतिक कदम उठाने का प्रयास करेंगे: रिजिजू

गौफ ने कहा, ‘‘मेरा लक्ष्य यहां खिताब जीतना है। मैं पहले भी यह कह चुकी हूं। मैं महानतम बनना चाहती हूं। जब मैं आठ साल की थी तो मेरे पिताजी ने कहा था कि मैं ऐसा कर सकती हूं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैं अब भी यह चाहती हूं, भले ही शत प्रतिशत आश्वस्त नहीं हूं। लेकिन आप नहीं जानते कि कब क्या हो जाए।’’

इसे भी पढ़ें: वेस्टइंडीज को हराकर बोले कोहली, जीत हासिल करना महत्वपूर्ण



टेनिस से इतर रिहाना और बियोन्स को अपना रोल मॉडल मानने वाली गौफ ने कहा कि वीनस बचपन से ही उनकी आदर्श रही हैं लेकिन कोर्ट पर उन्होंने ऐसी भावनाएं हावी नहीं होने दी। गौफ ने वीनस और उनकी छोटी बहन सेरेना को देखकर टेनिस को अपनाया था। वीनस ने भी माना कि गौफ काफी आगे जा सकती है। 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप