भारतीय डेविस कप टीम 55 साल बाद कर सकती है पाकिस्तान दौरा, AITA ने दिए संकेत

indian-davis-cup-team-likely-to-travel-to-pakistan-after-55-years
इस एशिया ओसेनिया ग्रुप एक मुकाबले का विजेता विश्व ग्रुप क्वालीफायर में जाएगा। इन दोनों देशों के बीच आखिरी मुकाबला 2006 में मुंबई में खेला गया था जिसमें भारत ने 3-2 से जीत दर्ज की।

नयी दिल्ली। भारतीय डेविस कप टीम 55 साल के बाद पाकिस्तान का दौरा कर सकती है। अखिल भारतीय टेनिस संघ (एआईटीए) ने संकेत दिये कि केंद्र सरकार सितंबर में पड़ोसी देश में खेलने के लिये खिलाड़ियों को अनुमति दे सकती है। भारतीय डेविस कप टीम मार्च 1964 के बाद पाकिस्तान दौरे पर नहीं गयी।

इसे भी पढ़ें: भारतीय खिलाड़ियों ने चीन जूनियर और कैडेट ओपन में दो कांस्य पदक जीते

वह मुकाबला तब लाहौर में खेला गया था जिसे भारत ने 4-0 से जीता था। एआईटीए के महासचिव हिरणमय चटर्जी ने बुधवार को कहा कि हमने सरकार को इस संबंध में पत्र लिखा है और उम्मीद है कि हम पाकिस्तान जाएंगे, हमें ऐसा लगता है। उन्होंने कहा कि यह द्विपक्षीय श्रृंखला नहीं है, यह विश्व कप जैसा है इसलिए सरकार को अनुमति देनी होगी। मुझे विश्वास है कि हम पाकिस्तान में जाकर खेलेंगे। पाकिस्तान महासंघ ने कहा है कि यह मुकाबला इस्लामाबाद में होगा। 

इसे भी पढ़ें: टेनिस में मेरा सफर शानदार रहा है, इतना लंबा करियर होना सौभाग्य की बात: लिएंडर पेस

इस एशिया ओसेनिया ग्रुप एक मुकाबले का विजेता विश्व ग्रुप क्वालीफायर में जाएगा। इन दोनों देशों के बीच आखिरी मुकाबला 2006 में मुंबई में खेला गया था जिसमें भारत ने 3-2 से जीत दर्ज की। वर्तमान में गैरखिलाड़ी कप्तान महेश भूपति उस टीम का हिस्सा थे। उस टीम में दिग्गज लिएंडर पेस, प्रकाश अमृतराज और रोहन बोपन्ना भी शामिल थे। इससे पहले भारत और पाकिस्तान का मैच 1973 में मलेशिया में तटस्थ स्थल पर खेला गया था।

इसे भी पढ़ें: कर्बर उलटफेर का शिकार, फेडरर ने चार साल बाद जीत से की वापसी

इस बीच पाकिस्तान टेनिस महासंघ (पीटीएफ) के सलमी सैफुल्लाह ने कहा कि वे घसियाले कोर्ट पर इस मुकाबले की मेजबानी करेंगे। पीटीएफ अध्यक्ष ने कहा कि भारत और पाकिस्तान के मुकाबले में काफी दिलचस्पी होती है और इसलिए हमें घसियाले कोर्ट पर होने वाले मुकाबले के सीधे प्रसारण से अच्छी कमाई की उम्मीद है जो कि टेनिस के लिये जरूरी है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़