युवराज ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट को कहा अलविदा, अब कैंसर पीड़ितों पर देंगे ध्यान

By अनुराग गुप्ता | Publish Date: Jun 10 2019 1:58PM
युवराज ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट को कहा अलविदा, अब कैंसर पीड़ितों पर देंगे ध्यान
Image Source: Google

युवराज सिंह ने कहा कि मैंने जीवन में कभी भी हार नहीं मानी और क्रिकेट के बाद मैं पूरी तरह से अपने एनजीओ के लिए काम करुंगा।

मुंबई। टीम इंडिया के हरफनमौला ऑलराउंडर युवराज सिंह ने मुंबई में प्रेस वार्ता में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने का ऐलान कर दिया है। इस दौरान उन्होंने कहा कि मैंने जीवन में कभी भी हार नहीं मानी और क्रिकेट के बाद मैं पूरी तरह से अपने एनजीओ के लिए काम करुंगा। जिसका उद्देश्य कैंसर रोगियों को एकदम फिट करना है। बता दें कि युवराज सिंह ने 40 टेस्ट मैच और 304 एकदिवसीय मैच खेले हैं। 

इसे भी पढ़ें: बॉल टेंपरिंग के शक के घेरे में आए एडम जम्पा, कप्तान फिंच ने दिया स्पष्टीकरण

2011 वर्ल्ड कप का उल्लेख करते हुए युवी ने कहा कि यह मेरे लिए किसी सपने से कम नहीं था। इस दौरान युवी ने कहा कि यह क्रिकेट को अलविदा कहने का बिल्कुल सही समय है। बता दें कि साल 2000 में डेब्यू करने वाले युवी साल 2019 में खेले जा रहे विश्व कप का हिस्सा बनना चाहते थे। लेकिन उन्हें टीम में जगह नहीं मिली जिसके बाद उन्होंने क्रिकेट से संन्यास ले लिया। 

इसे भी पढ़ें: वार्नर की आलोचना पर बोले फिंच, वह भारतीय गेंदबाजों के सामने दबाव में थे



गौरतलब है कि साल 2007 में खेले गए टी20 वर्ल्ड कप में इंग्लैंड के गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड की लाइन लेंथ बिगाड़ते हुए युवी ने 6 गेंद में 6 छक्के जड़कर इतिहास रच दिया था। मिली जानकारी के मुताबिक युवी अब आईसीसी से मान्यता प्राप्त विदेशी ट्वेंटी20 लीग में फ्रीलांस कैरियर बनाना चाहते हैं।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story