बढ़ती उम्र के साथ महिला और पुरुष की ड्राइव में आते हैं कई बड़े बदलाव, जानने के लिए पढ़िए

बढ़ती उम्र के साथ महिला और पुरुष की ड्राइव में आते हैं कई बड़े बदलाव, जानने के लिए पढ़िए
Prabhasakshi

सेक्स ड्राइव हमारी सेक्स लाइफ को बेहतर बनाने में अहम भूमिका निभाती है। पर आखिरकार सेक्स ड्राइव होती क्या है? विशेषज्ञों की मानें तो यह सवाल जितना आसान लगता है इसका जवाब देना उतना ही मुश्किल है। आज के अपने इस आर्टिकल में बढ़ती उम्र के साथ बदलती सेक्स ड्राइव के बारे में बात करने वाले हैं।

सेक्स ड्राइव हमारी सेक्स लाइफ को बेहतर बनाने में अहम भूमिका निभाती है। पर आखिरकार सेक्स ड्राइव होती क्या है? विशेषज्ञों की मानें तो यह सवाल जितना आसान लगता है इसका जवाब देना उतना ही मुश्किल है। इतने सालों के बाद भी वैज्ञानिक आज तक सही ढंग से नहीं समझ पाएं हैं कि सेक्स ड्राइव आखिर क्या है और इसे मापते कैसे हैं। सेक्स ड्राइव जिसे कामेच्छा भी कहा जाता है इसे बढ़ाने में हार्मोन एक भूमिका निभाते हैं पर इसके साथ मनोवैज्ञानिक, सामाजिक और शारीरिक फैक्टर्स भी मिलकर काम करते हैं। आज के अपने इस आर्टिकल में बढ़ती उम्र के साथ बदलती सेक्स ड्राइव के बारे में बात करने वाले हैं। पढ़ते रहिए-

इसे भी पढ़ें: क्या ऐसे सपनों की वजह से आपकी भी रातो की नींद उड़ गयी है? जानिए इन सब का मतलब क्या है

20 की उम्र में महिलाओं और पुरुषों की सेक्स ड्राइव

पुरुषों की सेक्स ड्राइव की बात करें तो 20 की उम्र में पुरुषों के शरीर में टेस्टोस्टेरोन हार्मोन सबसे उच्च स्तर पर होता है। यह हार्मोन उनकी यौन उत्तेजना को बढ़ाने में अहम भूमिका निभाता है। इस उम्र में पुरुषों की सेक्स ड्राइव सबसे बेहतर होती है पर कई पुरुषों में इस उम्र में इरेक्टाइल डिसफंक्शन की समस्या भी देखी गयी है। महिलाओं की सेक्स ड्राइव की बात करें तो उनकी फर्टिलिटी टीनएज उम्र से 20 की उम्र के अंत तक सबसे अच्छी होती है और इस समय महिलाएं सेक्स में कम रुचि रखती हैं । 20 की उम्र के बाद महिलाओं की प्रजनन क्षमता कम होने लगती है जिसकी वजह से उनकी सेक्स करने की इच्छा बढ़ने लगती है।

इसे भी पढ़ें: यौन जीवन में चाहिए ज्यादा मजा, इन ओषधियों की मदद से बढ़ाएं कामेच्छा

30 से 40 की उम्र में महिलाओं और पुरुषों की सेक्स ड्राइव

इस उम्र में भी कई पुरुषों की सेक्स ड्राइव बनी रहती है। 35 की उम्र के बाद टेस्टोस्टेरोन धीरे-धीरे कम होना शुरू हो जाते हैं जो ज्यादातर पुरुषों की सेक्स ड्राइव को प्रभावित करते हैं। इसके अलावा काम, परिवार और अन्य चीजों का तनाव भी इस उम्र में पुरुषों की सेक्स लाइफ को प्रभावित कर सकता है। महिलाएं अपने जीवन के इस समय में सबसे मजबूत सेक्स ड्राइव को महसूस करती हैं।

इसे भी पढ़ें: लोग क्या कहेंगे कि चिंता किये बिना इस भारतीय कपल ने शुरू किया अपना अनोखा स्टार्ट-अप MyMuse

50 की उम्र और उसके बाद में महिलाओं और पुरुषों की सेक्स ड्राइव

जैसे-जैसे उम्र बढ़ती है इसका सीधा असर महिलाओं और पुरुषों की सेक्स ड्राइव पर पड़ने लगता है। इस उम्र में पुरुषों में इरेक्टाइल डिसफंक्शन की समस्या आम हो जाती है और इरेक्शन भी कम बार हो सकता है। इस उम्र में महिलाएं मेनोपॉज़ की ओर बढ़ती है जिसकी वजह से उनके शरीर में एस्ट्रोजन का स्तर कम होने लगता है और यह उनकी यौन इच्छा को कम कर देता है।