शाम की चाय के साथ बनाएँ ये 3 तरह की कचौड़ियां, सब हो जाएंगे आपके फैन

शाम की चाय के साथ बनाएँ ये 3 तरह की कचौड़ियां, सब हो जाएंगे आपके फैन

आमतौर पर हम बाजार से कचौड़ी खरीद कर खाते हैं क्योंकि हमें लगता है कि कचौड़ी बनाने में बहुत मेहनत लगती होगी। लेकिन ऐसा बिल्कुल भी नहीं है। आप अलग-अलग तरीके की स्टफिंग से घर पर कचौड़ी बना सकते हैं। आज के इस लेख में हम आपको 3 तरह की कचौड़ी बनाने की रेसिपी देने जा रहे हैं।

चाहे बच्चे हों या बड़े, कचौड़ी खाना सबको पसंद होता है। आमतौर पर हम बाजार से कचौड़ी खरीद कर खाते हैं क्योंकि हमें लगता है कि कचौड़ी बनाने में बहुत मेहनत लगती होगी। लेकिन ऐसा बिल्कुल भी नहीं है। आप अलग-अलग तरीके की स्टफिंग से घर पर कचौड़ी बना सकते हैं। आज के इस लेख में हम आपको 3 तरह की कचौड़ी बनाने की रेसिपी देने जा रहे हैं। आप इन कचौड़ियों को शाम के नाश्ते में खा सकते हैं या बाहर घूमने जाते समय भी ले जा सकते हैं- 

इसे भी पढ़ें: ओट्स की मदद से बनाएं यह लड्डू, हर कोई पूछेगा रेसिपी

सत्तू की कचौड़ी 

सामग्री 

1/2 कटोरी सत्तू

1 प्याज बारीक कटी हुई

2-3 हरी मिर्च बारीक कटी हुई

1 चम्मच अजवाइन

1/2 चम्मच सरसो तेल

1/2 चम्मच भरा हुआ मिर्च का मसाला

1/2 चम्मच धनिया पत्ती कटी हुई

1 कप आटा

नमक - स्वादानुसार 

तेल - आवश्यकतानुसार 

विधि 

सबसे पहले एक बर्तन में सत्तू लें। इसमें प्याज, मिर्च, धनिया, नमक, अजवाइन, भरी हुई मिर्च का मसाला और तेल मिलाकर मिक्स करें।

अब एक थाली में आटा लें और इसमें अजवाइन, नमक और तेल डालकर अच्छे से मिक्स कर लें। अब थोड़ा-थोड़ा पानी डालते हुए मुलायम पर थोड़ा सख्त आटा गूंथ लें और 10 मिनट तक ढँक के रख दें।

इसके बाद आटे की छोटी छोटी लोई बनाएं और इसमें सत्तू का भरावन भरकर चारों तरफ से घूमते हुए बंद कर दें। इसके बाद कचौड़ी को हाथ से दबाकर रख दें। 

अब एक कढ़ाही में तेल गर्म करें और उसमें कचौड़ी डालकर तल लें।

सत्तू की कचौड़ी को आलू बैंगन के भरते या चटनी के साथ परोसें।

इसे भी पढ़ें: घर पर बिना ओवन के बना सकते हैं पिज़्ज़ा, जानिए आसान रेसिपी

मूंग दाल की कचौड़ी 

सामग्री 

1 कप मैदा 

भीगी मूंग दाल - 1/2 कप

बारीक कटा हरा धनिया - 1 चम्मच 

2 बारीक कटी हरी मिर्च 

1/2 चम्मच धनिया पाउडर 

1/2 चम्मच सोंफ पाउडर 

1/2 चम्मच लाल मिर्च पाउडर 

हींग - 1 चुटकी 

नमक -स्वादानुसार

1/4 चम्मच गरम मसाला 

1/2 चम्मच जीरा

1/2 चम्मच नमक 

नमक - स्वादानुसार 

तेल - आवश्यकतानुसार 

विधि 

सबसे पहले एक बाउल में मैदा, नमक और तेल डालकर अच्छी तरह मिला लें। 

अब थोड़ा थोड़ा पानी डालकर नरम आटा गूंथ लें और 15 मिनट के लिए ढंककर रख दें।

इसके बाद मूंग की भीगी हुई दाल को दरदरा पीस लें।

इसके बाद एक पैन में तेल गर्म करें और इसमें हींग और जीरा डालें। 

जब जीरा चटक जाए तो इसमें हरी मिर्च, धनिया पाउडर, सौंफ पाउडर और मसाला डालकर हल्का सा भून लें।

अब इसमें पिसी हुई दाल डालकर मध्यम आँच पर भून लें।

इसके बाद दाल में नमक, गर्म मसाला और लाल मिर्च पाउडर डालकर मिला लें। 

अब दाल को लगातार चलाते हुए अच्छी महक आने तक भून लें। इसके बाद दाल को प्लेट में निकालकर ठंडा कर लें।

अब आटे की लोई बनाने और इसमें 1 चम्मच दाल का मिश्रण डालकर आटे को चारों तरफ से घूमते हुए बंद कर दें।  

अब एक कढ़ाही में तेल गर्म करें और उसमें कचौड़ी डालकर तल लें।

मूंग दाल की कचौड़ी को धनिया की चटनी या अमचूर की चटनी के साथ सर्व करें।


लौकी की कचौड़ी 

सामग्री 

लौकी - 1 मीडियम 

2-3 कली लहसुन 

भुना जीरा - 1/2 चम्मच 

लाल मिर्च पाउडर - 1/2 चम्मच 

हल्दी पाउडर - 1/2 चम्मच 

स्वादानुसार नमक

तलने के लिए तेल

विधि 

सबसे पहले लौकी को छील कर कद्दूकस कर लें।

अब एक बाउल में आटा और कसी हुई लौकी डालें। 

इसमें लहसुन, लाल मिर्च पाउडर, हल्दी पाउडर, भुना जीरा और नमक डालकर आटा गूंथ लें।

अब आटे को 10 मिनट के लिए ढँककर रखें, इसके बाद आटे से छोटी-छोटी लोइयां लेकर पूड़ी बना लें।

अब एक कढ़ाही में तेल गर्म करें और उसमें कचौड़ी डालकर गोल्डन होने तक फ्राई करें।

लौकी की कचौड़ी को बूंदी के रायते, चटनी या अचार के साथ सर्व करें।

- प्रिया मिश्रा