कास्टिंग काउच पर सुरवीन चावला ने किया बड़ा ख़ुलासा, डायरेक्टर्स करते थे गंदी-गंदी डिमांड

कास्टिंग काउच पर सुरवीन चावला ने किया बड़ा ख़ुलासा, डायरेक्टर्स करते थे गंदी-गंदी डिमांड

सुरवीन चावला 3 बार साउथ सिनेमा में और 2 बार बॉलीवुड में कास्टिंग काउच का एक्सपीरिंस कर चुकी हैं। सुरवीन कहती हैं कि जब वो फ़िल्म के लिये ऑडिशन देने गई, तो एक डायरेक्टर ने उनसे क्‍लीवेज दिखाने के लिये कहा। वहीं दूसरे डायरेक्टर ने उनसे जांघें दिखाने की मांग की।

बॉलीवुड में अकसर ही यौन योषण का मुद्दा उठता रहता है। तनुश्री दत्ता के बाद न जाने कितनी ही अभिनेत्रियों ने उनके साथ हुए शारीरिक शोषण की दांस्ता बयां की। पर कुछ समय बाद सभी मुद्दों को दबा कर सारे मामलों को शांत कर दिया गया। एक बार फिर से बॉलीवुड गालियारों में यौन शोषण का मुद्दा गूंज रहा है। 

इस बार आवाज़ टीवी से फ़िल्मों की ओर रुख़ करने वाली अभिनेत्री सुरवीन चावला ने उठाई है। एक एंटरटेनमेंट वेबसाइट को दिये गये इंटरव्यू में उन्होंने कास्टिंग काउच को लेकर बड़ा ख़ुलासा किया है। एंटरटेनमेंट वेबसाइट पिंकविला को दिये इंटरव्यू में सुरवीन चावला ने बताया कि वो फ़िल्म इंडस्ट्री में कुल पांच बार कास्टिंग काउच का शिकार हो चुकी हैं।

इसे भी पढ़ें: फिल्म ''The sky is pink'' के प्रमोशन में जुटीं प्रियंका, कहा- निका में नजर आते है....

सुरवीन चावला 3 बार साउथ सिनेमा में और 2 बार बॉलीवुड में कास्टिंग काउच का एक्सपीरिंस कर चुकी हैं। सुरवीन कहती हैं कि जब वो फ़िल्म के लिये ऑडिशन देने गई, तो एक डायरेक्टर ने उनसे क्‍लीवेज दिखाने के लिये कहा। वहीं दूसरे डायरेक्टर ने उनसे जांघें दिखाने की मांग की। इसके अलावा उन्होंने ये भी बताया कि एक समय में वो बॉडी शेमिंग को लेकर भी बहुत झेल चुकी हैं।

इस किस्से को याद करते हुए सुरवीन ने बताया कि एक शख़्स ने उनसे कहा कि उनका वज़न काफ़ी ज़्यादा है, जबकि उस समय वो सिर्फ़ 56 किलो थी। शख़्स की बात सुनने के बाद सुरवीन ने मन ही मन सोचा कि उसे चश्में की ज़रूरत है। इस इंटरव्यू में सुरवीन ने ये भी बताया कि फ़िल्मों में ऑडिशन के टाइम पर टीवी अनुभव को छिपाती थीं। क्योंकि उनसे ऐसा कहा गया था कि वो टीवी की वजह से ज़्यादा एक्पोज़ हो चुकी हैं। सुरवीन सभी से यही बोलती कि उन्होंने टीवी पर सिर्फ़ एक साल ही काम किया है।

पर कुछ समय बाद उन्हें ये एहसास कि वो ऐसा क्यों कर रही हैं? क्या ये किसी टीम के लिये आसान नहीं होगा कि अगर कोई इंसान पहले से ही अपनी लाइन्स में काम करना जानता हो।

इसे भी पढ़ें: एक्शन फिल्में करने वालों को एक बेहतर स्टोरी की जरूरत होती है: ऋतिक रोशन

अभिनेत्री सुरवीन चावला ने अपने एक्टिंग कॅरियर की शुरूआत टेलीविज़न पर आने वाले डेलीसोप 'कहीं तो होगा' से की थी। इसके बाद उन्होंने फ़िल्मों की ओर रुख़ किया। बॉलीवुड के साथ-साथ सुरवीन ने तेलुगु, कन्नड़ और तमिल मूवीज़ में भी अपनी एक्टिंग का जलवा दिखाया।

वैसे सुरवीन को जो कहना था कह दिया, पर क्या आगे उनकी बात पर कोई एक्शन लिया जायेगा? या फिर बाकि अभिनेत्रियों की तरह उनकी आवाज़ भी चुप करा दी जायेगी।

- आकांक्षा तिवारी






Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

मनोरंजन जगत

झरोखे से...