नहीं थम रहीं कॉमेडियन वीर दास की मुश्किलें, शिकायत के बाद इस राज्य में शो हुए बैन!

नहीं थम रहीं कॉमेडियन वीर दास की मुश्किलें, शिकायत के बाद इस राज्य में शो हुए बैन!

वीर दास के अमेरिका में कॉमेडी शो के दौरान दिए एक बयान को लेकर भारत में बवाल हो रहा है। सोशल मीडिया पर वायरल हो रही क्लिप में वीर दार को यह बोलते हुए देखा गया कि मैं एक ऐसे भारत से आता हूं, जहां दिन मे स्त्री की पूजा होती है और रात में उनके साथ दुष्कर्म होता है।

हास्य कलाकार वीर दास के अमेरिका में कॉमेडी शो के दौरान दिए एक बयान को लेकर भारत में बवाल हो रहा है। सोशल मीडिया पर वायरस हो रही एक क्लिप में वीर दार को यह बोलते हुए देखा गया कि ‘‘मैं एक ऐसे भारत से आता हूं, जहां दिन मे स्त्री की पूजा होती है और रात में उनके साथ दुष्कर्म होता है।’’ विदेशी जमीन पर एक भारतीय की तरफ से इस तरह के बयान की निंदा की जा रही हैं।  सोशल मीडिया पर वीर दास को देशद्रोही कहकर ट्रोल किया जा रहा हैं। वीर दास के इस बयान से कुछ लोगों को भारत सरकार पर हमला करने का एक मौत मिल गया है। उन्होंने कॉमेडियन के बयान का समर्थन करने हुए सरकार पर ही निशाना साधा है। वहीं दूसरी तरफ बीजेपी ने कॉमेडियन की अलोचना करते हुए उनके खिलाफ कानूनी कार्यवाही की मांग की है।

इसे भी पढ़ें: UP चुनाव को लेकर भाजपा की दिल्ली बैठक, अमित शाह और नड्डा की अगुवाई में मंथन शुरू

मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने बृहस्पतिवार को कहा कि कॉमेडियन वीर दास को प्रदेश में कार्यक्रम (परफॉर्म) करने की अनुमति नहीं दी जाएगी। मध्य प्रदेश के गृह मंत्री ने एक सवाल के जवाब में यह बात कही। ‘आई कम फ्रॉम टू इंडियाज’ में की गई टिप्पणियों के लिए दास के खिलाफ पुलिस में कई शिकायतें दर्ज कराई गई हैं। उन्होंने ‘पीटीआई-भाषा’ से कहा,‘‘ हम ऐसे मसखरे को परफॉर्म नहीं करने देंगे। अगर वह माफी मांगते हैं तो हम इस पर विचार करेंगे।’’ मिश्रा ने कहा कि कुछ मसखरे हैं जो भारत को बदनाम करने की कोशिश करते हैं और कपिल सिब्बल तथा अन्य कांग्रेसी नेता उनके समर्थक हैं। मंत्री ने कहा,‘‘ कांग्रेस नेता राहुल गांधी भी विदेशी जमीन पर भारत को बदनाम करते है। मध्य प्रदेश कांग्रेस के प्रमुख कमलनाथ भी ऐसा करते हैं।’’ दरअसल दास ने सोमवार को यूट्यूब पर एक वीडियो अपलोड किया था। ‘आई कम फ्रॉम टू इंडियाज’ शीर्षक वाले छह मिनट का यह वीडियो वाशिंगटन डीसी के जॉन एफ कैनेडी सेंटर में उनके हालिया कार्यक्रम का हिस्सा है। जानेमाने कलाकार ने इस वीडियो क्लिप में विभिन्न विषयों को छुआ। इन विषयों में कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन, कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई, बलात्कार एवं महिलाओं से संबंधित मुद्दे और कॉमेडियन के खिलाफ कार्रवाई शामिल है। वीडियो वायरल होने के बाद उन्हें देश-विरोधी कहा जा रहा है और देश के तमाम हिस्सों में उनके खिलाफ शिकायतें भी दर्ज हो चुकी हैं।

इसे भी पढ़ें: PFI के कथित हमले में मारे गए संघ कार्यकर्ता के परिवार से मिले मनमोहन वैद्य

दिल्ली में भारतीय जनता पार्टी के एक नेता ने अभिनेता-हास्य कलाकार वीर दास के खिलाफ यह आरोप लगाते हुए एक शिकायत दर्ज करायी है कि उन्होंने देश की छवि धूमिल करने के इरादे से एक अंतरराष्ट्रीय मंच पर भारत के खिलाफ ‘‘अपमानजनक’’ बयान दिए। पुलिस ने बुधवार को यह जानकारी दी। नयी दिल्ली जिला पुलिस थाने में दर्ज करायी गई शिकायत में भाजपा की दिल्ली इकाई के उपाध्यक्ष एवं प्रवक्ता आदित्य झा ने आरोप लगाया कि वाशिंगटन डीसी में जॉन एफ केनेडी सेंटर में एक कार्यक्रम के दौरान दास ने कहा कि भारत में महिलाओं की दिन में पूजा की जाती है और रात में उनसे बलात्कार किया जाता है। झा ने दावा किया कि इस तरह के सभी ‘‘अपमानजनक’’ बयान देश और महिलाओं की छवि बिगाड़ने के लिए एक अंतरराष्ट्रीय मंच पर दिए गए। पुलिस उपायुक्त (नयी दिल्ली) दीपक यादव ने कहा, ‘‘हमें इस संबंध में एक शिकायत मिली है और इसकी जांच की जा रही है।’’ उन्होंने बताया कि अभी तक कोई प्राथमिकी दर्ज नहीं की गयी है। दास ने सोमवार को अपने मोनोलॉग ‘‘आई कम फ्रॉम टू इंडियाज’’ से इस वीडियो की छह मिनट की क्लिप यूट्यूब पर अपलोड की थी। 

फेडरेशन ऑफ वेस्टर्न इंडिया सिने एम्प्लॉइज (एफडब्ल्यूआईसीई) ने बुधवार को कॉमेडियन वीर दास से ‘आई कम फ्रॉम टू इंडियाज’ में की गई टिप्पणियों के लिए माफी मांगने को कहा है। संगठन ने कहा कि इससे विदेशी धरती पर भारत का अपमान हुआ। दास इस समय अमेरिका में हैं और उन्होंने गत सोमवार को यूट्यूब पर एक वीडियो अपलोड किया था। ‘आई कम फ्रॉम टू इंडियाज’ शीर्षक वाले छह मिनट का यह वीडियो वाशिंगटन डीसी के जॉन एफ कैनेडी सेंटर में उनके हालिया कार्यक्रम का हिस्सा है। जानेमाने कलाकार ने इस वीडियो क्लिप में विभिन्न विषयों को छुआ। इन विषयों में कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन, कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई, बलात्कार एवं महिलाओं से संबंधित मुद्दे और कॉमेडियन के खिलाफ कार्रवाई शामिल है। उन्होंने एक दिन बाद एक बयान जारी करके स्पष्ट किया कि उनकी टिप्पणी का उद्देश्य देश का अपमान करना नहीं था। एफडब्ल्यूआईसीई के अध्यक्ष बी एन तिवारी ने कहा कि फिल्म संगठन उन्हें शूटिंग नहीं करने देगा और फिल्मनिर्माताओं से आग्रह करेगा कि वह जब तक सार्वजनिक रूप से माफी नहीं मांग लेते, कोई उनके साथ काम न करे। तिवारी ने पीटीआई-को बताया कि उन्होंने (दास) जो कुछ भी कहा है, वह घृणित है और जब तक वह इसके लिए माफी नहीं मांग लेते वे उनका समर्थन नहीं करेंगे। वह जहां कहीं भी शूटिंग करेंगे, उन्हें रोकने की कोशिश होगी। उन्होंने कहा, ‘‘हमारे लिए देश सबसे पहले है। आप पैसे कमाने के लिए देश को बदनाम नहीं कर सकते। उन्होंने जो कुछ भी कहा, हम उस पर कड़ी आपत्ति जताते हैं।’’ तिवारी ने कहा कि इस फिल्म इकाई के अभिनेता, निर्देशक, निर्माता समेत करीब 2.5 लाख पंजीकृत सदस्य हैं। बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत ने भी दास के इस शो की निंदा की है और उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की मांग की है। वहीं हंसल मेहता और पूजा भट्ट ने दास का समर्थन किया है।