इस वजह से अमृता राव ने छोड़ा था बॉलीवुड और शादी कर बसा लिया था घर!

इस वजह से अमृता राव ने छोड़ा था बॉलीवुड और शादी कर बसा लिया था घर!

अभिनय की दुनिया में अमृता लोगों के बीच अपनी साफ़ छवि छोड़ने में कामयाब रही और उन्हें देख कर ऐसा लगा कि वो बॉलीवुड में लंबी पारी खेलने के लिये तैयार हैं। पर ऐसा नहीं हुआ और 3 साल पहले शादी करने वाली अमृता अचानक इंडस्ट्री से गायब हो गई

बॉलीवुड में बहुत सी ऐसी एक्ट्रेसेस हैं, जिन्होंने काफ़ी तेज़ी से दर्शकों के दिलों में जगह बनाई और फिर अचानक पर्दे से गायब हो गई या फिर कई साल बाद फ़िल्म में वापसी की। इन्हीं चंद अभिनेत्रियों में दर्शकों की फ़ेवरेट अमृता राव भी हैं। 'इश्क-विश्क', 'मैं हूं ना', 'विवाह' और 'जॉली एल एल बी' जैसी तमाम फ़िल्मों में शानदार अभिनय कर अपनी सादगी से लोगों का दिल जीत लिया।

इसे भी पढ़ें: Movie Review- बाला साहेब के जीवन से जुड़े विवादों पर आधारित है फिल्म ‘ठाकरे’

अभिनय की दुनिया में अमृता लोगों के बीच अपनी साफ़ छवि छोड़ने में कामयाब रही और उन्हें देख कर ऐसा लगा कि वो बॉलीवुड में लंबी पारी खेलने के लिये तैयार हैं। पर ऐसा नहीं हुआ और 3 साल पहले शादी करने वाली अमृता अचानक इंडस्ट्री से गायब हो गई और पांच साल के लंबे इंतज़ार के बाद वो फ़िल्म 'ठाकरे' में बाल ठाकरे की पत्नी मीना ताई के किरदार में दिखाई पड़ी। हमेशा की तरह इस बार भी अमृता ने अपने किरदार के साथ न्याय किया।

इसे भी पढ़ें: मुस्लिम होकर ठाकरे का रोल प्ले करने पर बोले नवाजुद्दीन कहा, ''मैं किसी विचारधारा की पैरवी नहीं करता''

वहीं इस दौरान जब एक्ट्रेस से उनके सालों तक गायब रहने की वजह पूछ गई, तो उन्होंने इसका कारण बताते हुए कहा कि मैंने बहुत कम उम्र में सिनेमा की दुनिया में एंट्री ली, उसका मुझे सबसे बड़ा फ़ायदा ये हुआ कि मैंने यंग ऐज में ही काफ़ी अनुभव हासिल कर लिया। बड़ी-बड़ी फ़िल्मों में काम करने के बाद एक वक़्त ऐसा आया, जब बॉलीवुड में सब कुछ काफ़ी तेज़ी से बदल रहा था और इस हिसाब से फ़िल्मों में काफ़ी खुलापन दिखाये जाना लगा था। इसके साथ ही मुझे भी बोल्ड सीन, किसिंग सीन, इंटिमेट सीन, बिकनी सीन और छोटे कपड़े पहन कर एक्टिंग करने के ऑफ़र आ रहे थे। इन किरदारों को लेकर कशमकश में थी, क्योंकि ये सब मेरे कम्फर्ट जोन के बाहर था।

दिल और दिमाग़ से सोचने के बाद मैंने अपने दिल की सुनी और ख़ुद के कम्फर्ट जोन से बाहर न जाने का फ़ैसला किया। मुझे कई बड़े-बड़े डायरेक्टर्स ने फ़िल्मों के ऑफ़र दिये, पर मैंने मना कर दिया। मैं बड़े पर्दे पर बोल्ड और हॉट सीन देकर दर्शकों की पसंद नहीं बनना चाहती थी। अमृता कहती हैं कि इस दौरान मैंने फ़िल्मों से दूरी बना अपना घर बसाना चाह और वही किया, जो मुझे पसंद था।

इसके बाद मेरी इमेज के चलते मुझे फ़िल्म ठाकरे के लिये अप्रोच किया गया और ये मेरे लिये ख़ुशी की बात थी।