भारतनेट से जुड़े सभी गांवों को मार्च 2020 तक मिलेगा फ्री वाई-फाई: प्रसाद

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  दिसंबर 26, 2019   12:00
भारतनेट से जुड़े सभी गांवों को मार्च 2020 तक मिलेगा फ्री वाई-फाई: प्रसाद

मंत्री ने कहा कि साझा सेवा केंद्रों (सीएससी) पर बैंकिंग सेवाओं की पेशकश की जाएगी। इन केंद्रों की संख्या 2014 में 60,000 से बढ़कर मौजूदा समय में 3.60 लाख हो गई है। हरियाणा में इस तरह के 11,000 सीएससी हैं, जो 650 सेवाएं दे रहे हैं।

रेवाड़ी (हरियाणा)। केंद्रीय सूचना प्रौद्योगिकी एवं दूरसंचार मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बुधवार को कहा कि भारतनेट के जरिये जुड़े देशभर के गांवों को मार्च 2020 तक मुफ्त वाई- फाई दिया जाएगा। प्रसाद ने कहा, "हम 1.3 लाख ग्राम पंचायतों को भारतनेट ऑप्टिकल फाइबर से जोड़ चुके हैं। हमारा लक्ष्य 2.5 लाख ग्राम पंचायतों को इससे जोड़ने का है। भारतनेट सेवाओं के उपयोग को बढ़ाने के लिए, हम भारतनेट के माध्यम से जुड़े सभी गांवों को मार्च 2020 तक मुफ्त वाई - फाई देंगे।" वर्तमान में , भारतनेट परियोजना के तहत जुड़े 48,000 गांवों में वाईफाई की सुविधा है।

इसे भी पढ़ें: मारुति के पूर्व MD खट्टर ने किया PNB बैंक के साथ 110 करोड़ का Fraud, केस दर्ज

मंत्री ने कहा कि साझा सेवा केंद्रों (सीएससी) पर बैंकिंग सेवाओं की पेशकश की जाएगी। इन केंद्रों की संख्या 2014 में 60,000 से बढ़कर मौजूदा समय में 3.60 लाख हो गई है। हरियाणा में इस तरह के 11,000 सीएससी हैं, जो 650 सेवाएं दे रहे हैं। सीएससी ई- गवर्नेंस सर्विसेज इंडिया लिमिटेड देश के ग्रामीण और दूरदराज के क्षेत्रों में डिजिटल ग्राम पहल को लागू कर रहा है।

इसे भी पढ़ें: बजाज समूह के चेयरमैन राहुल बजाज ने मोदी सरकार की नीतियों पर उठाए सवाल

कुल मिलाकर एक लाख गांवों को डिजिटल गांव में तब्दील करने की तैयारी है। सीएससी ई- गवर्नेंस सर्विसेज इंडिया लिमिटेड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी दिनेश त्यागी ने कहा , " डिजिटल ग्राम योजना में ग्रामीण अर्थव्यवस्था को सही मायने में बदलने और डिजिटल अंतर को कम करने की क्षमता है।"





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।