कैबिनेट की बैठक में रेलवे को लेकर बड़ा फैसला, 10 हजार करोड़ से होगा तीन स्टेशनों का पुनर्विकास

Ashwini Vaishnaw
ANI
अंकित सिंह । Sep 28, 2022 4:12PM
रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने बताया कि नई दिल्ली रेलवे स्टेशन बसों, ऑटो और मेट्रो रेल सेवाओं के साथ ट्रेन सेवाओं को एकीकृत करेगा। उन्होंने कहा कि अहमदाबाद रेलवे स्टेशन का नया स्वरूप मोडेरा के सूर्य मंदिर से प्रेरित है। सीएसएमटी के हेरिटेज भवन को छुआ नहीं जाएगा, लेकिन आसपास की इमारतों को फिर से विकसित किया जाएगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में आज केंद्रीय कैबिनेट की बैठक हुई। इस बैठक में कई योजनाओं को मंजूरी दी गई है। इसी कड़ी में केंद्र सरकार ने नई दिल्ली, छत्रपति शिवाजी और अहमदाबाद रेलवे स्टेशन के पुनर्विकास के लिए 10,000 करोड़ रुपए अनुमोदन राशि स्वीकृति दी है। केंद्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव ने बताया कि अभी कुल 199 रेलवे स्टेशन के पुनर्निमार्ण का कार्य भी चल रहा है। उन्होंने बताया कि नई दिल्ली, छत्रपति शिवाजी और अहमदाबाद रेलवे स्टेशनों के पुनर्विकास के लिए निविदा अगले 10 दिनों में जारी की जाएगी। इन 3 प्रमुख स्टेशनों सहित 199 स्टेशनों के पुनर्विकास की कुल लागत 60,000 करोड़ रुपये है।

इसे भी पढ़ें: इंडियन मोबाइल कांग्रेस के मौके पर PM मोदी 5G सेवाओं की करेंगे शुरुआत, एयरटेल और Jio भी कर सकते हैं अपने प्लान की घोषणा

रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने बताया कि नई दिल्ली रेलवे स्टेशन बसों, ऑटो और मेट्रो रेल सेवाओं के साथ ट्रेन सेवाओं को एकीकृत करेगा। उन्होंने कहा कि अहमदाबाद रेलवे स्टेशन का नया स्वरूप मोडेरा के सूर्य मंदिर से प्रेरित है। सीएसएमटी के हेरिटेज भवन को छुआ नहीं जाएगा, लेकिन आसपास की इमारतों को फिर से विकसित किया जाएगा। नई दिल्ली रेलवे स्टेशन, अहमदाबाद रेलवे स्टेशन और सीएसएमटी, मुंबई का लगभग 2 साल से 3.5 साल की अवधि में पुनर्विकास किया जाएगा। इन स्टेशनों के पुनर्विकास में मॉड्यूलर तकनीक इस्तेमाल होगी। 

इसे भी पढ़ें: सभी परीक्षण पूरे, वंदे भारत रेल का अक्तूबर से नियमित उत्पादन शुरू होगा: वैष्णव

इन पर भी लगी मुहर

केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने बताया कि मंत्रिमंडल ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना को अगले तीन महीने (अक्टूबर 2022-दिसंबर 2022) के लिए बढ़ाने को मंज़ूरी दी है। अगले तीन महीनों में लगभग 122 एलएमटी खाद्यान्न देश भर के 80 करोड़ से ज़्यादा गरीबों को मिलेगा। इसके अलावा केंद्रीय कैबिनेट ने 1 जुलाई, 2022 से देय केंद्र सरकार के कर्मचारियों और पेंशन भोगियों को 4% की दर से लिए महंगाई भत्ते (DA) और महंगाई राहत की अतिरिक्त किस्त जारी करने की मंजूरी दी है। 

अन्य न्यूज़