बिजली क्षेत्र के कोयले की आपूर्ति अप्रैल में 4.07 करोड़ टन पर पहुंचा

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: May 19 2019 11:46AM
बिजली क्षेत्र के कोयले की आपूर्ति अप्रैल में 4.07 करोड़ टन पर पहुंचा
Image Source: Google

कोल इंडिया लि. ने 2018-19 में बिजली क्षेत्र को 48.8 करोड़ टन की आपूर्ति की थी, जो इससे पिछले वित्त वर्ष 2017-18 के 45.42 करोड़ टन की तुलना में 7.4 प्रतिशत अधिक है।

नयी दिल्ली। सार्वजनिक क्षेत्र की कोल इंडिया लि. (सीआईएल) द्वारा बिजली क्षेत्र को कोयले की आपूर्ति अप्रैल में मामूली एक प्रतिशत बढ़कर 4.07 करोड़ टन पर पहुंच गई। एक साल पहले इसी महीने में यह 4.03 करोड़ टन थी। आधिकारिक आंकड़ों में यह जानकारी दी गई है। 

 
हालांकि, सिंगरेनी कोलियरीज कंपनी लि. (एससीसीएल) की कोयला आपूर्ति पिछले महीने दो प्रतिशत घटकर 47 लाख टन रह गई, जो अप्रैल, 2018 में 48 लाख टन थी। सिंगरेनी कोलियरीज में तेलंगाना सरकार की 51 प्रतिशत और भारत सरकार की 49 प्रतिशत हिस्सेदारी है। 


कोल इंडिया लि. ने 2018-19 में बिजली क्षेत्र को 48.8 करोड़ टन की आपूर्ति की थी, जो इससे पिछले वित्त वर्ष 2017-18 के 45.42 करोड़ टन की तुलना में 7.4 प्रतिशत अधिक है। इससे पहले केंद्रीय कोयला मंत्री पीयूष गोयल ने कहा था कि कोई भी बिजली घर कोयले की कमी से नहीं जूझ रहा है और न ही ईंधन आपूर्ति की कमी से उत्पादन में नुकसान की कोई रिपोर्ट है। 
 


रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story