बजट सत्र से ठीक पहले नए मुख्य आर्थिक सलाह हुए नियुक्त, डॉ. वी. अनंत नागेश्वरन को मिली जिम्मेदारी

Dr V Anantha Nageswaran
प्रतिरूप फोटो
डॉ. वी. अनंत नागेश्वरन प्रधानमंत्री की आर्थिक सलाहकार परिषद (ईएसी) के पूर्व अंशकालिक सदस्य थे। केवी सुब्रमण्यम ने 17 दिसंबर, 2021 को अपने तीन साल के कार्यकाल के पूरा होने के बाद शिक्षा जगत में वापसी की घोषणा की थी। जिसके बाद डॉ. वी. अनंत नागेश्वरन ने अगले सीईए के रूप में मोर्चा संभाला है।

नयी दिल्ली। केंद्र सरकार ने बजट सत्र से ठीक पहले शुक्रवार को डॉ. वी. अनंत नागेश्वरन को तत्काल प्रभाव से नया मुख्य आर्थिक सलाहकार (सीईए) नियुक्त किया है। आपको बता दें कि वित्तीय वर्ष 2022-23 के लिए केंद्रीय बजट और आर्थिक सर्वेक्षण की प्रस्तुति से पहले यह नियुक्ति हुई है। 

इसे भी पढ़ें: बजट सत्र से पहले कांग्रेस की अहम बैठक, महंगाई और किसानों के मुद्दे उठाएगी 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, डॉ. वी. अनंत नागेश्वरन प्रधानमंत्री की आर्थिक सलाहकार परिषद (ईएसी) के पूर्व अंशकालिक सदस्य थे। केवी सुब्रमण्यम ने 17 दिसंबर, 2021 को अपने तीन साल के कार्यकाल के पूरा होने के बाद शिक्षा जगत में वापसी की घोषणा की थी। जिसके बाद डॉ. वी. अनंत नागेश्वरन ने अगले सीईए के रूप में मोर्चा संभाला है। इस नियुक्ति से पहले डॉ. वी. अनंत नागेश्वरन एक लेखक, शिक्षक और सलाहकार के रूप में काम कर चुके हैं। उन्होंने भारत और सिंगापुर में कई बिजनेस स्कूलों और प्रबंधन संस्थानों में पढ़ाया है।

इसे भी पढ़ें: Union Budget 2022: क्या है हलवा सेरेमनी जिसकी जगह इस बार बांटी गई मिठाई, मोदी सरकार में बदली बजट की कई परंपराएं 

डॉ. वी. अनंत नागेश्वरन आईएफएमआर ग्रेजुएट स्कूल ऑफ बिजनेस के डीन और क्रेरा यूनिवर्सिटी में अर्थशास्त्र के विजिटिंग प्रोफेसर थे। वह 2019 से 2021 तक प्रधानमंत्री के आर्थिक सलाहकार परिषद के अंशकालिक सदस्य भी रहे हैं। उन्होंने आईआईएम अहमदाबाद से प्रबंधन में स्नातकोत्तर डिप्लोमा और मैसाचुसेट्स विश्वविद्यालय से डॉक्टरेट की डिग्री प्राप्त की है।

अन्य न्यूज़