चालू वित्त वर्ष के 9 महीने में 7,951 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी: SBI

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Mar 2 2019 3:06PM
चालू वित्त वर्ष के 9 महीने में 7,951 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी: SBI
Image Source: Google

हम प्रावधान में अंतर को पूरा करने के लिए हर तिमाही में नए धोखाधड़ी के मामलों में अतिरिक्त प्रावधान करते हैं। इस संबंध में , सभी धोखाधड़ी से जुड़े मामलों में निर्धारित दिशानिर्देशों का पालन कर रहे हैं।

नयी दिल्ली। देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) में चालू वित्त वर्ष के शुरूआती नौ महीने (अप्रैल - दिसंबर 2018) के दौरान कुल 7,951.29 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के मामले हुए हैं। बैंक ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। एसबीआई ने शेयर बाजार को दी सूचना में कहा कि ये सभी खाते बहुत पहले ही एनपीए बन गए थे और अधिकतर पोर्टफोलियो के लिए पहले से ही 100 प्रतिशत का प्रावधान दिया गया है।

इसे भी पढ़ें: सुरेश प्रभु ने सात हवाईअड्डों की परियोजनाओं की आधारशिला रखी

इसके अलावा , हम प्रावधान में अंतर को पूरा करने के लिए हर तिमाही में नए धोखाधड़ी के मामलों में अतिरिक्त प्रावधान करते हैं। इस संबंध में , सभी धोखाधड़ी से जुड़े मामलों में निर्धारित दिशानिर्देशों का पालन कर रहे हैं। ऋण वसूली न्यायाधिकरण और अन्य तंत्र के माध्यम से वसूली के लिए भी समाधान प्रक्रिया चल रही है।

इसे भी पढ़ें: नयी पीढ़ी के प्रौद्योगिकी विकास का फायदा उठाएगा भारत: सुरेश प्रभु



बैंक ने बताया कि पहली तिमाही में कुल 723.06 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के 669 मामले सामने आए। दूसरी तिमाही में 4832.42 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी से संबंधित 660 प्रकरण प्रकाश में आए। तीसरी तिमाही में 2395.81 करोड़ रुपये की बैंकिंग धोखाधड़ी के 556 मामले सामने आए हैं। 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप