नकदी संकट से जूझ रही जेट एयरवेज के पायलटों ने खटखटाया मंत्रालय का दरवाजा

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मार्च 16, 2019   15:38
नकदी संकट से जूझ रही जेट एयरवेज के पायलटों ने खटखटाया मंत्रालय का दरवाजा

कंपनी आर्थिक दिक्कतों के कारण पिछले कुछ महीने से वेतन देने में देरी कर रही है। कंपनी ने कर्ज की किस्तें चुकाने में भी चूक की है। कंपनी के एक हजार से अधिक पायलटों के संगठन नेशनल एविएटर्स गिल्ड ने यह पत्र छह मार्च को लिखा है।

नयी दिल्ली। नकदी संकट से जूझ रही कंपनी जेट एयरवेज के पायलटों की यूनियन ने बकाया वेतन के भुगतान को लेकर श्रम मंत्रालय का दरवाजा खटखटाया है। संगठन ने केंद्रीय श्रम मंत्री संतोष गंगवार को पत्र लिखकर कहा है कि बकाया वेतन के कारण स्थिति तनावपूर्ण और निराशाजनक होती जा रही है।

इसे भी पढ़ें: अदीस अबाबा में हुआ था प्लेन क्रैस, भारत ने बोइंग 737 मैक्स विमानों पर लगाया प्रतिबंध

कंपनी आर्थिक दिक्कतों के कारण पिछले कुछ महीने से वेतन देने में देरी कर रही है। कंपनी ने कर्ज की किस्तें चुकाने में भी चूक की है। कंपनी के एक हजार से अधिक पायलटों के संगठन नेशनल एविएटर्स गिल्ड ने यह पत्र छह मार्च को लिखा है।

इसे भी पढ़ें: बोइंग 737 मैक्स-8 पर DGCA के अतिरिक्त सुरक्षा निर्देशों का कर रहे हैं पालन- स्पाइस जेट

पत्र में संगठन ने कहा, ‘‘हमारे सदस्यों के लिये स्थिति तनावपूर्ण और निराशाजनक होती जा रही है जो कि कॉकपिट में रहने वाले पायलटों के लिये ठीक नहीं है। इस संबंध में प्रबंधन से की गयी सारी अपील का कोई असर नहीं हुआ।’’





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।