बोइंग 737 मैक्स-8 पर DGCA के अतिरिक्त सुरक्षा निर्देशों का कर रहे हैं पालन- स्पाइस जेट

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Mar 12 2019 6:38PM
बोइंग 737 मैक्स-8 पर DGCA के अतिरिक्त सुरक्षा निर्देशों का कर रहे हैं पालन-  स्पाइस जेट
Image Source: Google

कंपनी ने एक बयान में कहा कि वह विमान के मुद्दे को लेकर डीजीसीए और बोइंग दोनों के साथ सक्रिय तौर पर जुड़ी हुई है। साथ ही डीजीसीए द्वारा जारी एहतियाती अतिरिक्त सुरक्षा दिशानिर्देशों का पालन कर रही है।

मुंबई। सस्ती उड़ान सेवा देने वाली विमानन कंपनी स्पाइस जेट ने मंगलवार को जानकारी दी कि वह बोइंग 737 मैक्स-8 के लिए नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) द्वारा जारी अतिरिक्त सुरक्षा निर्देशों का पालन कर रही है। साथ ही इस मसले पर विनिर्माता कंपनी बोइंग के साथ ‘सक्रिय तौर पर जुड़ी’हुई है। स्पाइस जेट के बेड़े में ऐसे आठ विमान शामिल हैं। देश में स्पाइस के अलावा केवल जेट एयरवेज ही ऐसी कंपनी है जो इन विमानों का परिचालन करती है।
भाजपा को जिताए

कंपनी ने एक बयान में कहा कि वह विमान के मुद्दे को लेकर डीजीसीए और बोइंग दोनों के साथ सक्रिय तौर पर जुड़ी हुई है। साथ ही डीजीसीए द्वारा जारी एहतियाती अतिरिक्त सुरक्षा दिशानिर्देशों का पालन कर रही है। उसके लिए सबसे पहले सुरक्षा है।’’ वहीं जेट एयरवेज नकदी संकट के चलते पट्टे पर लिए विमानों का किराया चुकाने में असमर्थ रही है और पिछले कुछ समय से उसके कई विमान खड़े हुए हैं। ऐसे में वह इन विमानों का भी परिचालन नहीं कर रही है।
गौरतलब है कि रविवार की सुबह इथोपिया के अदीस अबाबा में एक बोइंग का 737 मैक्स-8 विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया जिसमें सवार सभी 157 लोगों की मौत हो गई। इससे पहले अक्टूबर 2018 में इंडोनेशिया में भी बोइंग का यही विमान दुर्घटनाग्रस्त हुआ था जिसमें 189 लोगों की मौत हो गई थी। इसी बीच बीजिंग से मिली खबर के अनुसार चीन के नागर विमानन नियामक ने सोमवार को घरेलू विमानन कंपनियों को निर्देश दिया है कि जब तक पूरी तरह से सुरक्षा गारंटी ना मिल जाए वे बोइंग 737 मैक्स-8 का परिचालन नहीं करें।चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता लू कांग ने यहां एक प्रेस वार्ता में कहा कि चीन की ओर से चीन का नागर विमानन प्राधिकरण अमेरिका और बोइंग से जुड़ा रहेगा।  प्राधिकरण के बोइंग 737 मैक्स-8 के परिचालन पर रोक लगाए जाने से चीन में ऐसे करीब 100 विमान खड़े हो गए हैं।
 


रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story