मैच से पहले भारत और ऑस्ट्रेलियाई टीम ने घेरा बनाकर किया नस्लवाद का विरोध, बांधी काली पट्टी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 27, 2020   13:29
मैच से पहले भारत और ऑस्ट्रेलियाई टीम ने घेरा बनाकर किया नस्लवाद का विरोध, बांधी काली पट्टी

नस्लवाद के विरोध में भारतीय क्रिकेटरों ने ऑस्ट्रेलियाई टीम का साथ दिया। दोनों टीमों के क्रिकेटरों ने पूर्व ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी डीन जोंस और फिलीप ह्यूज की याद में बांह पर काली पट्टी भी बांधी।

सिडनी। नस्लवाद विरोधी आंदोलन के समर्थन में और मेजबान देशज लोगों की संस्कृति को सम्मान देने के लिये भारतीय क्रिकेटरों ने भी ऑस्ट्रेलियाई टीम के साथ नंगे पैर मैदान पर सर्कल बनाया। दोनों टीमों के बीच पहले एक दिवसीय क्रिकेट मैच से पूर्व यह आयोजन हुआ। ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज पैट कमिंस ने कहा कि नस्लवाद विरोधी आंदोलन के समर्थन और आस्ट्रेलिया की देशज संस्कृति को सम्मान देने का यह टीम का तरीका है। दोनों टीमों के क्रिकेटरों ने पूर्व आस्ट्रेलियाई खिलाड़ी डीन जोंस और फिलीप ह्यूज की याद में बांह पर काली पट्टी भी बांधी।

इसे भी पढ़ें: रोहित की कमी पूरी कर सकता हैं ये भारतीय बल्लेबाज, फिंच ने बताया नाम

जोंस का सितंबर में मुंबई में दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। वहीं ह्यूज का छह बरस पहले आज ही के दिन निधन हुआ जब घरेलू मैच में सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर ही सीन एबोट का बाउंसर उनके सिर पर लगा था। इस साल की शुरूआत में वेस्टइंडीज के महान क्रिकेटर माइकल होल्डिंग ने इंग्लैंड में सीमित ओवरों की श्रृंखला के दौरान ‘ब्लैक लाइव्स मैटर’ आंदोलन का समर्थन नहीं करने पर आस्ट्रेलियाई टीम की आलोचना की थी। आस्ट्रेलियाई महिला टीम ने भी सितंबर में न्यूजीलैंड के खिलाफ सीमित ओवरों की श्रृंखला के दौरान नंगे पैर सर्कल बनाया था। पिछले सप्ताह शेफील्ड शील्ड टीमों ने भी ऐसा ही किया।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।