IPL 2022। माही में बचा है अभी भी दम, मुंबई का पलड़ा है कोलकाता पर भारी, क्या गुल खिलाएंगे अय्यर के महारथी

IPL 2022। माही में बचा है अभी भी दम, मुंबई का पलड़ा है कोलकाता पर भारी, क्या गुल खिलाएंगे अय्यर के महारथी
प्रतिरूप फोटो
Prabhasakshi Image

कोलकाता नाइट राइडर्स को अगर मुकाबले में बना रहना है तो लय में आना जरूरी है। ऐसे में कोलकाता डीवाई पाटिल स्टेडियम में मुंबई इंडियंस के खिलाफ उतरेगी। शीर्ष क्रम में कई संयोजन आजमाना और टीम में लगातार बदलाव करना इस सीजन में कोलकाता को भारी पड़ा है।

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 55वें मैच में चेन्नई सुपर किंग्स ने दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ 91 रनों की बड़ी जीत दर्ज की है। इस दौरान कप्तान महेंद्र सिंह धोनी का बल्ला भी खूब चला और उन्होंने बता दिया कि शेर अभी बूढ़ा नहीं हुआ है और उसमें अभी भी दम बचा हुआ है। हालांकि मैच का हीरो डेवॉन कॉन्वे को चुना गया। जिन्होंने 49 गेंद में 87 रनों की तूफानी पारी खेली। जिसमें उन्होंने 7 चौके और 5 छक्के जड़े। इसके बाद मोईन अली ने अपनी फिरकी का जादू दिखाया और 3 कीमती विकेट झटके। जिसमें मिचेल मार्श, ऋषभ पंत और रिपल पटेल का विकेट शामिल है। 

इसे भी पढ़ें: हेटमायर पहले बच्चे के जन्म के लिये स्वदेश लौटे 

मैच के बाद कप्तान धोनी ने माना कि बड़ी जीत से मदद मिलती है लेकिन यह पहले मिलती तो ज्यादा बेहतर होता। धोनी ने कहा कि यह परफेक्ट मैच रहा। बल्लेबाजों ने अच्छा प्रदर्शन किया। मैं टॉस जीतना चाहता था और पहले फील्डिंग करना चाहता था लेकिन यह इस तरह का मैच था जहां आप टॉस हारना चाहते हो। उन्होंने कहा कि सलामी बल्लेबाजों ने अच्छा मंच तैयार किया जिससे मदद मिली। हमें सुनिश्चित करना था कि उनके बड़े हिटर लय में नहीं आएं।

रन मशीन की मशीन से नदारद रहे रन

खैर रविवार को दो मुकाबले खेले गए थे। दूसरे मुकाबले में तो चेन्नई ने बाजी मारी और पहले मुकाबले में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरू ने सनराइजर्स हैदराबाद को मजा चखाया। इस मुकाबले में रन मशीन का बल्ला तो नहीं चला लेकिन फॉफ डुप्लेसिस ने कप्तानी पारी खेली और ग्लेन मैक्सवेल ने ऑलराउंड प्रदर्शन किया। जिसकी बदौलत टीम ने हैदराबाद के खिलाफ 67 रनों से जीत दर्ज की। बाकी का कमाल श्रीलंका के फिरकीबाज हसरंगा ने करके दिखाया। उन्होंने 5 विकेट चटकाकर हैदराबाद की कमर तोड़ दी। जिसके लिए उन्हें प्लेयर ऑफ द मैच का खिताब दिया गया।

भले ही बेंगलुरू ने मुकाबला जीत लिया हो लेकिन सबसे ज्यादा चिंता विराट कोहली के फॉर्म की है क्योंकि ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी20 विश्व कप तक उनका फॉर्म में आना बेहद जरूरी है। आईपीएल के मौजूदा सत्र में रन मशीन तीन बार डक आउट हो चुके हैं। 

इसे भी पढ़ें: मैं विकेट निकालने वाला गेंदबाज हूं, टीम में यहीं भूमिका है: हसरंगा 

मुंबई बनाम कोलकाता

कोलकाता नाइट राइडर्स को अगर मुकाबले में बना रहना है तो लय में आना जरूरी है। ऐसे में कोलकाता डीवाई पाटिल स्टेडियम में मुंबई इंडियंस के खिलाफ उतरेगी। शीर्ष क्रम में कई संयोजन आजमाना और टीम में लगातार बदलाव करना इस सीजन में कोलकाता को भारी पड़ा है। प्वाइंट टेबल में टॉप पर काबिज लखनऊ सुपर जायंट्स से 75 रन से करारी हार झेलने के बाद इस मैच में कोलकाता अपनी किस्मत आजमाएगी। दूसरी तरफ मुंबई की टीम दूसरे नंबर की टीम गुजरात टाइटंस पर 5 रन की जीत के कारण बढ़े मनोबल के साथ मैदान पर उतरेगी।

मुंबई प्लेऑफ की दौड़ से पहले ही बाहर हो चुकी है। रोहित शर्मा की अगुवाई वाली टीम के 10 मैचों में चार प्वाइंट है। वह अधिक से अधिक 12 प्वाइंट तक पहुंच सकती है जो प्लेऑफ में पहुंचने के लिए पर्याप्त नहीं हैं। नए कप्तान श्रेयस अय्यर की अगुवाई में कोलकाता को लखनऊ के खिलाफ बड़ी हार का सामना करना पड़ा था।

मुंबई का पलड़ा भारी

विपरीत परिस्थितियों के बावजूद दोनों टीम डीवाई पाटिल स्टेडियम में एक दूसरे को कड़ी चुनौती देने की कोशिश करेंगी। दोनों टीम की निगाह अब अपने अभियान का सकारात्मक अंत करने पर टिकी रहेगी। इन दोनों टीम के बीच अब तक खेले गए मैचों में मुंबई ने 22 और केकेआर ने आठ मैच जीते हैं। मुंबई अपने इस रिकॉर्ड को और बेहतर करने का कोशिश करेगी। 

इसे भी पढ़ें: उमरान मलिक की नैसर्गिक गति को नजरअंदाज करना मुश्किल होगा: इयान चैपल 

मुंबई के लिए अच्छी बात यह है कि उसके दोनों सलामी बल्लेबाजों कप्तान रोहित शर्मा और ईशान किशन ने टाइटंस के खिलाफ टीम को अच्छी शुरुआत दिलाई। ऐसे में कोलकाता के खिलाफ भी अच्छी शुरुआत की उम्मीद है। रोहित भी मुंबई की तरफ से आईपीएल में 5000 रन पूरे करने से 88 रन दूर हैं और कोलकाता के खिलाफ मुकाबले में वो इस मुकाम तक पहुंच सकते हैं।

वहीं कोलकाता पहले छह ओवरों में रन बनाने के लिए जूझता हुआ दिखाई दिया है जिसे लेकर मुख्य कोच ब्रैंडन मैकुलम ने कहा कि हम पावरप्ले में संघर्ष करते रहे हैं जो इस पूरे सत्र में हमारे लिये निराशाजनक रहा। पूरे टूर्नामेंट में बीच के ओवरों में हमारा प्रदर्शन अच्छा रहा तथा डेथ ओवरों में भी हमने बुरा खेल नहीं दिखाया।

संभावित टीमें:-

कोलकाता नाइट राइडर्स: एरोन फिंच, बाबा इंद्रजीत, नीतीश राणा, रिंकू सिंह, श्रेयस अय्यर (कप्तान), टिम साउदी, उमेश यादव, आंद्रे रसेल, अनुकुल रॉय, सुनील नारायण, वेंकटेश अय्यर।

मुंबई इंडियन्स : रोहित शर्मा, सूर्यकुमार यादव, तिलक वर्मा, टिम डेविड, जसप्रीत बुमराह, मुरुगन अश्विन, डेनियल सैम्स, डेवाल्ड ब्रेविस, कीरोन पोलार्ड, ईशान किशन, कार्तिकेय सिंह।