रवींद्र जडेजा को लगा दोहरा झटका ! पहले कप्तानी गई और अब मौजूदा सत्र से हो सकते हैं बाहर

रवींद्र जडेजा को लगा दोहरा झटका ! पहले कप्तानी गई और अब मौजूदा सत्र से हो सकते हैं बाहर
प्रतिरूप फोटो
ANI Image

रवींद्र जडेजा की पहले कप्तानी छिनी और अब कहा जा रहा है कि चेन्नई के बचे हुए मुकाबले नहीं खेलेंगे। दरअसल, रवींद्र जडेजा के चोटिल होने की खबरें सामने आ रही हैं। रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के खिलाफ मुकाबले में फील्डिंग करते समय रवींद्र जडेजा चोटिल हो गए थे और इस मुकाबले में टीम को शिकस्त भी मिली थी।

नयी दिल्ली। चेन्नई सुपर किंग्स ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के मौजूदा सत्र में भविष्य के लिए कप्तान तैयार करने की योजना बनाई थी लेकिन टीम को भारी झटका लगा। दरअसल, चेन्नई ने रवींद्र जडेजा को टीम की कप्तानी सौंपी ताकि वो महेंद्र सिंह धोनी जैसे अनुभवी खिलाड़ी की मौजूदगी में निर्णय लेने की अपनी क्षमता को विकसित कर सकें लेकिन उनकी किस्मत ने उनका साथ नहीं दिया और रवींद्र जडेजा की कप्तानी में चेन्नई को काफी ज्यादा नुकसान हुआ। ऐसे में टीम ने वापस से महेंद्र सिंह धोनी को कप्तानी सौंप दी और अब रवींद्र जडेजा को दोहरा झटका लगा है। 

इसे भी पढ़ें: रोहित भाई और विराट भाई ने मोटी कीमत का दबाव न बनाने की सलाह दी थी : ईशान किशन 

आपको बता दें कि रवींद्र जडेजा की पहले कप्तानी छिनी और अब कहा जा रहा है कि चेन्नई के बचे हुए मुकाबले नहीं खेलेंगे। दरअसल, रवींद्र जडेजा के चोटिल होने की खबरें सामने आ रही हैं। रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के खिलाफ मुकाबले में फील्डिंग करते समय रवींद्र जडेजा चोटिल हो गए थे और इस मुकाबले में टीम को करारी हार का भी सामना करना पड़ा था। इसके बाद चेन्नई ने दिल्ली के खिलाफ मुकाबला खेला था, जिसमें बड़ी जीत दर्ज की थी लेकिन इस मुकाबले में रवींद्र जडेजा ग्यारह सदस्यीय टीम का हिस्सा नहीं थे।

चोट में नहीं हुआ कोई सुधार

रिपोर्ट्स के मुताबिक, रवींद्र जडेजा की चोट में सुधार नहीं है। इसी वजह से उन्होंने दिल्ली के खिलाफ मुकाबला नहीं खेला था। बेंगलुरु के खिलाफ फील्डिंग करते समय उनके हाथ में चोट लग गई थी। ऐसे में उनका खेलना मुश्किल माना जा रहा है और टीम भी रवींद्र जडेजा को आगामी मुकाबले में खिलाकर कोई जोखिम नहीं उठाना चाहेगी। 

इसे भी पढ़ें: मुझे लगा था इतने रन बनाने के बाद हमारे पास पूरा मौका होगा: हार्दिक पंड्या 

प्लेऑफ का रास्ता आसान नहीं

चेन्नई का प्लेऑफ में पहुंचना नामुमकिन लग रहा है लेकिन महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी वाली टीम कोई भी करिश्मा कर सकती है। चेन्नई को अभी तीन मुकाबले खेलने हैं। ऐसे में टीम को तीनों मुकाबलों में अच्छे अंतर से जीत दर्ज करनी होगी। इसके बाद भी उनका प्लेऑफ में पहुंचना मुमकिन नहीं है लेकिन रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु और राजस्थान रॉयल्स अगर अपने बचे हुए सभी मुकाबले हार जाती है तो चेन्नई प्लेऑफ में पहुंच सकती है।