अमेरिका ने अपने नागरिकों के लिए जारी की ट्रेवल एडवाइजरी, कहा भारत में बढ़ रहे हैं कोरोना,रेप और आतंकवाद के मामले, यात्रा करने से बचें

 travel
अमेरिका द्वारा पाकिस्तान को भी यात्रा परामर्श के मामले में लेवल 3 में ही रखा गया है। का का कहना है कि पाकिस्तान में आतंकवाद और अलगाववादी हिंसा की घटनाओं में इजाफा हुआ है। इतना ही नहीं यहां के कुछ इलाकों में खतरा बहुत बढ़ गया है।

अमेरिका के जो बाइडन प्रशासन ने अपने नागरिकों के लिए भारत की यात्रा पर एक परामर्श जारी किया है। बाडडन प्रशासन ने अपने नागरिकों को चेतावनी दी है कि जम्मू कश्मीर में बढ़ रहे आतंकवाद, कोरोना और बलात्कार के बढ़ रहे मामलों को देखते हुए भारत की यात्रा करने पर पुनर्विचार करें। यह ट्रेवल एडवाइजरी ऐसे वक्त पर आई है जब अमेरिका के सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल ने भारत में कोरोना के मामलों को देखते हुए लेवल 3 स्तर का यात्रा और हेल्थ नोटिस जारी किया था।

अमेरिका ने अपनी यात्रा परामर्श में कहा, अमेरिकी नागरिक जम्मू कश्मीर राज्य (पूर्वी लद्दाख और उसकी राजधानी लेह को छोड़कर) में आतंकवाद और वहां फैली अशांति को देखते हुए सफर ना करें। इस यात्रा परामर्श में कहा गया है कि भारत-पाकिस्तान के सीमा के 10 किलोमीटर के दायरे में ना जाएं। क्योंकि यहां सशस्त्र संघर्ष होने की आशंका है। बाइडन प्रशासन की ओर से यह भी कहा गया है कि भारत में रेप सबसे तेजी से बढ़ते अपराधों में से एक हो गया है। अमेरिका द्वारा जारी इस यात्रा परामर्श में कहा गया है कि, भारतीय अधिकारियों की रिपोर्ट है कि भारत में बलात्कार सबसे तेजी से बढ़ते अपराधों में से एक हो गया है। टूरिस्ट प्लेसेस और अन्य स्थानों पर भी हिंसात्मक अपराध हुए हैं।

यूएसए ने भारत-पाकिस्तान को ट्रेवल एडवाइजरी लेवल 3 में रखा

यूएसए ने भारत को लेवल 3 के ट्रेवल एडवाइजरी में रखा है। अमेरिकी विदेश मंत्रालय की ओर से अपने नागरिकों को यह मशवरा दिया गया है कि कोरोना के खतरे को देखते हुए अपनी यात्रा पर एक बार फिर सोचें। अमेरिकी विदेश मंत्रालय ने कहा यदि आप एफडीए की ओर से अधिकृत टीके के साथ पूरी तरह टीकाकरण करा चुके हैं तो आपको कोविड से संक्रमित होने और उससे गंभीर लक्षण पैदा होने के खतरे कम हो सकते हैं। अमेरिकी नागरिकों को अंतरराष्ट्रीय सफर की प्लानिंग करने से पहले, टीकाकरण और बिना टिकाकरण वाले यात्रियों के लिए CDC  की सिफारिशों पर गौर करने को कहा गया है।

अमेरिका द्वारा पाकिस्तान को भी यात्रा परामर्श के मामले में लेवल 3 में ही रखा गया है। का का कहना है कि पाकिस्तान में आतंकवाद और अलगाववादी हिंसा की घटनाओं में इजाफा हुआ है। इतना ही नहीं यहां के कुछ इलाकों में खतरा बहुत बढ़ गया है। अमेरिका ने पाकिस्तान को कोरोना के मामले में लेवन-1 की ही श्रेणी में रखा है। अपने नागरिकों को अमेरिका द्वारा सलाह दी गई है कि पाकिस्तान के बलूचिस्तान और ख़ैबर फ़ख्तूनख़्वा प्रांत का सफर ना करें। इन इलाकों में आतंकवाद और किडनैपिंग जैसी घटनाएं बढ़ी हैं।

अन्य न्यूज़