वेनेजुएला से अपने सभी राजनयिक कर्मचारियों को वापस बुलाएगा अमेरिका

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Mar 12 2019 6:02PM
वेनेजुएला से अपने सभी राजनयिक कर्मचारियों को वापस बुलाएगा अमेरिका
Image Source: Google

तेल समृद्ध देश वेनेजुएला की आर्थिक स्थिति चरमराई हुई है लेकिन इसे रूस और चीन से समर्थन मिल रहा है। अमेरिका ने पहले से ही वेनेजुएला के तेल निर्यात को बुरी तरह प्रभावित करने के लिए प्रतिबंध लगा रखे हैं।

वाशिंगटन। अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ ने सोमवार को कहा कि वेनेजुएला में हालात खराब होने की वजह से काराकस स्थित अपने दूतावास से अमेरिका अपने शेष राजनयिक कर्मचारियों को वापस बुलाएगा। दोनों देशों के बीच पहले से ही बेहद खराब चल रहे रिश्तों में अमेरिका के इस कदम से मौजूदा स्थिति और भी बिगड़ सकती है। ट्रंप यह कह चुके हैं कि वेनेजुएला के राष्ट्रपति निकोलस मादुरो को सत्ता से अपदस्थ करने के लिए सैन्य हस्तक्षेप के अलावा अब कोई विकल्प नहीं है।

भाजपा को जिताए

तेल समृद्ध देश वेनेजुएला की आर्थिक स्थिति चरमराई हुई है लेकिन इसे रूस और चीन से समर्थन मिल रहा है। अमेरिका ने पहले से ही वेनेजुएला के तेल निर्यात को बुरी तरह प्रभावित करने के लिए प्रतिबंध लगा रखे हैं। वेनेजुएला में बिजली के भयावह संकट के पांचवें दिन में प्रवेश के साथ ही विपक्ष के नेता जुआन गुइदो ने सोमवार को नये सिरे से सामूहिक प्रदर्शन का आह्वान किया है।

इसे भी पढ़ें: आखिर क्यों उज़्बेकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति की बेटी को जेल भेजा गया?

वेनेजुएला आर्थिक संकट से गुजर रहा है और इस संकट ने विपक्षी नेता जुआन गुइदो के उत्थान को एक बड़ा मौका दिया है। गुइदो ने जनवरी में खुद को अंतरिम नेता बताया था और करीब 50 से ज्यादा देशों ने अमेरिका के नेतृत्व में उनका समर्थन किया था।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story