वेनेजुएला में ‘आपात स्थिति’ की घोषणा के बाद गुइदो ने रैली का आह्वान किया

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Mar 12 2019 11:20AM
वेनेजुएला में ‘आपात स्थिति’ की घोषणा के बाद गुइदो ने रैली का आह्वान किया
Image Source: Google

गुइदो और विपक्ष के नियंत्रण वाले विधानमंडल के पास इसे लागू करने का कोई तरीका नहीं है क्योंकि सैन्य एवं सुरक्षा सेवाओं पर मादुरो का नियंत्रण है जो इस सहायता के देश में पहुंचने में बाधा बनी हुई हैं।

काराकस। वेनेजुएला में बिजली के भयावह संकट के पांचवें दिन में प्रवेश के साथ ही विपक्ष के नेता जुआन गुइदो ने सोमवार को नये सिरे से सामूहिक प्रदर्शन का आह्वान किया। गुइदो ने नेशनल असेंबली विधान मंडल में एक भाषण के दौरान कहा कि राष्ट्रपति निकोलस मादुरो के खिलाफ विरोध जाहिर करने के लिए, “कल दोपहर तीन बजे वेनेजुएला के सभी लोग सड़कों पर उतरेंगे।”संसद ने अंतरराष्ट्रीय सहायता पाने का रास्ता निकालने के लिए “आपात स्थिति” घोषित करने के गुइदो के अनुरोध को स्वीकार कर लिया था। इस अंतरराष्ट्रीय सहायता में से 250 टन सामग्री कोलंबिया और ब्राजील के साथ लगने वाली वेनेजुएला की सीमा पर पिछले एक महीने से अटकी हुई है।
भाजपा को जिताए
 
गुइदो और विपक्ष के नियंत्रण वाले विधानमंडल के पास इसे लागू करने का कोई तरीका नहीं है क्योंकि सैन्य एवं सुरक्षा सेवाओं पर मादुरो का नियंत्रण है जो इस सहायता के देश में पहुंचने में बाधा बनी हुई हैं। वेनेजुएला के अंतरिम राष्ट्रपति के तौर पर करीब 50 देशों से मान्यता पा चुके गुइदो ने सेना और सुरक्षा सेवाओं से मंगलवार के प्रदर्शनों को रोकने या बाधा डालने से परहेज करने को कहा।
स्थिति की व्याख्या “आपदा” के तौर पर करते हुए उन्होंने कहा कि बृहस्पतिवार से शुरू हुए लातिन अमेरिकी इतिहास के सबसे बुरे बिजली संकट ने ‘कई’ जान ले ली हैं। हालांकि सप्ताह के अंत में कुछ हिस्सों में बिजली आपूर्ति बहाल हुई थी लेकिन सेवाएं रुक-रुक कर दी जा रही थीं और ये केवल कुछ ही घंटे मिल रही थीं। वहीं, नेशनल असेंबली की आपात बैठक भी इस बिजली संकट की भेंट चढ़ गई जहां बैठक शुरू होने के एक घंटे के भीतर ही बिजली गुल हो गई।
 


रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप