ट्रंप महाभियोग मामले में गवाह ने कहा, रूस ने गढ़ी झूठी कहानी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 22, 2019   11:52
ट्रंप महाभियोग मामले में गवाह ने कहा, रूस ने गढ़ी झूठी कहानी

हिल्स ने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि रूस वह विदेशी शक्ति है जिसने व्यवस्थित तरीके से2016 में हमारी लोकतांत्रिक संस्थाओं पर हमला किया। यह सार्वजनिक निष्कर्ष है जिसकी पुष्टि हमारी खुफिया एजेंसियों ने कांग्रेस की द्विदलीय समिति के समक्ष की है।

वाशिंगटन। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ चल रही महाभियोग सुनवाई के दौरान व्हाइट हाउस की पूर्व सलाहकार ने गुरुवार को दी अपनी गवाही में कहा कि ट्रंप और रिपब्लिकन ने 2016 के चुनाव को यूक्रेन द्वारा प्रभावित करने की जो झूठी कहानी प्रचारित की थी उसे रूस ने गढ़ा था।

इसे भी पढ़ें: अमेरिकी सदन में हांगकांग मानवाधिकार एवं लोकतंत्र कानून पारित

राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद की पूर्व अधिकारी और रूसी मामलों की विशेषज्ञ फियोना हिल ने सुनवाई के पांचवें दिन कांग्रेस की खुफिया मामलों की स्थायी समिति के समक्ष गवाही दी। महाभियोग जांच इस बात कर केंद्रित है कि ट्रंप ने यूक्रेन के राष्ट्रपति पर अपने प्रतिद्वंद्वी जो बाइडेन और उनके बेटे हंटर के खिलाफ राजनीति से प्रेरित होकर जांच का दबाव बनाया था और दावा किया था कि 2016 के अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में यूक्रेन ने डेमोक्रेट पार्टी की मदद की थी। 

इसे भी पढ़ें: व्यापार युद्ध: ट्रंप ने कहा, अगर समझौता नहीं हुआ तो चीन पर लगाएंगे शुल्क

हिल ने कहा कि इस तरह की झूठी कहानी को रूस ने गढ़ा और प्रचारित किया। उन्होंने कहा कि सवाल और बयान जो मैंने आप में से कुछ लोगों से सुना उससे लगता है कि वे मानते हैं कि रूस और उसकी रक्षा सेवा ने हमारे देश के खिलाफ कोई अभियान नहीं चलाया जबकि यूक्रेन ने कुछ हद तक ऐसा किया। यह झूठी कहानी है बल्कि रूस की सुरक्षा एजेंसियों ने इसे प्रचारित किया।

इसे भी पढ़ें: अमेरिका को दक्षिण कोरिया के साथ सैन्य अभ्यास पूरी तरह से खत्म करना चाहिए: उत्तर कोरिया

हिल्स ने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि रूस वह विदेशी शक्ति है जिसने व्यवस्थित तरीके से2016 में हमारी लोकतांत्रिक संस्थाओं पर हमला किया। यह सार्वजनिक निष्कर्ष है जिसकी पुष्टि हमारी खुफिया एजेंसियों ने कांग्रेस की द्विदलीय समिति के समक्ष की है। रूस अभियान का असर आज भी सामने है। हमारे देश खंडित हो गया है। 





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।