रूस अपने ‘विजय दिवस’ से पहले मारियुपोल को कब्जे में लेना चाहता है : ब्रिटेन की सेना

UK Army
prabhasakshi
ब्रिटेन की सेना का मानना है कि रूस अपने ‘विजय दिवस’ से पहले यूक्रेन के बंदरगाह शहर मारियुपोल और इस्पात संयंत्र को अपने नियंत्रण में लेना चाहता है। यूक्रेन पर रूस के आक्रमण की शुरुआत से ही ब्रिटेन रोजाना सार्वजनिक रूप से खुफिया रिपोर्ट जारी करता रहा है।

ल्वीव (यूक्रेन)। ब्रिटेन की सेना का मानना है कि रूस अपने ‘विजय दिवस’ से पहले यूक्रेन के बंदरगाह शहर मारियुपोल और इस्पात संयंत्र को अपने नियंत्रण में लेना चाहता है। यूक्रेन पर रूस के आक्रमण की शुरुआत से ही ब्रिटेन रोजाना सार्वजनिक रूप से खुफिया रिपोर्ट जारी करता रहा है। मारियुपोल में अजोवस्तल इस्पात संयंत्र क्षेत्र में कई सप्ताह से लड़ाई जारी है, जहां रूसी बमबारी से बचने के लिए यूक्रेन के सैनिकों और आम नागरिकों ने भूमिगत सुरंगों में डेरा डाला हुआ है।

इसे भी पढ़ें: पाकिस्तान ने जम्मू-कश्मीर में गठित परिसीमन आयोग की रिपोर्ट खारिज की

ब्रिटेन की सेना ने कहा, ‘‘ रूस ने अजोवस्तल इस्पात संयंत्र और मारियुपोल पर कब्जा करने के प्रयास फिर तेज कर दिए हैं, जो नौ मई को विजय दिवस से पहले एक बड़ी उपलब्धि और रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की यूक्रेन में एक प्रतीकात्मक सफलता की इच्छा से जुड़ा है।’’ रूस द्वितीय विश्व युद्ध में नाजी जर्मनी पर तत्कालीन सोवियत संघ की जीत की तारीख नौ मई को अपना विजय दिवस मनाता है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़