क्या लास्ट स्टेज में है किम जोंग उन की जिंदगी, तानाशाही का वारिस कौन?

क्या लास्ट स्टेज में है किम जोंग उन की जिंदगी, तानाशाही का वारिस कौन?

15 अप्रैल को अपने दादा के जन्मदिन के समारोह में किम जोंग उन शामिल नहीं हुए। ये देश के लिए साल के सबसे बड़े आयोजनों में से एक होता है. किम जोंग उन के दादा उत्तर कोरिया के संस्थापक थे। इसके बाद ही उनकी ग़ैर मौजूदगी को लेकर अटकलों का दौर शुरू हुआ। वैसे भी इसकी पुष्टि करना आसान नहीं।

एक ऐसा बच्चा जिसे पांच वर्ष की उम्र में ही तानशाह बनने के लिए तैयार किया गया। एक लड़का जो जब 11 का हुआ तो कोर प्वाइंट फोर फाइव की पिस्टल लेकर घूमने लगा। जब बड़ा हुआ तो रहस्मयी देश की गद्दी संभाली और बात-बात पर दुनिया को परमाणु बम से उड़ाने की धमकी देने से भी बाज नहीं आया। एक तानशाह जिसके दिमाग में सनक दौड़ती है जिसका दिमाग दुश्मनों को सबसे दर्दनाक मौत देता है। आज उसी तानाशाह की कहानी सुनाऊंगा। 

इसे भी पढ़ें: किम के स्वास्थ्य से जुड़ी खबरों पर डोनाल्ड ट्रंप ने दिया ये जवाब

कोरोना के कहर से जूझ रहे देशों की लिस्ट देखेंगे तो आपको अंदाजा लगेगा कि कैसे दुनिया के करीब 200 देश इस वायरस के जाल में उलझे हैं। इस लिस्ट में हर छोटे से छोटे और बड़ा से बड़ा देश है। लेकिन कोरोना संकट के इस दौर में कई मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया जा रहा है कि दुनिया के उस सनकी तानशाह का ब्रेन डेड हो गया है। क्रूर सुल्तान आईसीयू में है, लेकिन किस आईसीयू में है और उसकी हालत कैसी है? किम क्या कोमा में है, किम के सर्जरी रिपोर्ट में किस एडवांस इनफेक्शन का जिक्र है जैसे तमाम सवाल हैं जिसके जवाब आज तलाशने की कोशिश करेंगे। लेकिन सबसे पहले आपको इतिहास में लिए चलते हैं। 

इसे भी पढ़ें: किम जोंग की नाजुक हालात पर आया अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप का बयान, कही ये बात

साल 1945 की बात है दूसरा विश्व युद्ध खत्म होने के बाद दुनिया दो विचारधारा में बंट गई थी- अमेरिका और सोवियत संघ। इनकी आपसी लड़ाई का पहला अध्याय लिखा गया जापान और चीन के निकट कोरियाई प्रांत पर। इसके दो टुकड़े हो गए। साल 1948 में दुनिया के नक्शे पर एक नया मुल्क उभरा जिसके कायदे और कानून की किताब पर तानाशाही का तमगा है। जहां कानून का मतलब एक इंसान है, एक परिवार है। उत्तर कोरिया का नेतृत्व संभाला एक 36 साल के शख्स ने जो पहले चीन और रूस के नेतृत्व में गोरिल्ला युद्ध लड़ चुका था। इस शख्स का नाम था किम संग इल। किम ने न केवल नया देश खड़ा किया बल्कि उसपर हुकुमत के लिए राजवंश भी बना लिया। ऐसा राजवंश जिसमें आगे के सभी शासक किम थे। 2011 में उसी राजवंश की सत्ता मिली किम के पोते को जिसे 27 साल तक बाहरी दुनिया की नजरों से छिपा कर रखा गया था। 

इसे भी पढ़ें: तानाशाह किम जाेंग की जिंदगी खतरे में? हालत काफी नाजुक

अपने फूफा को जंगली कुत्तों के हवाले किया 

हांगकांग के चल रहे चीन के अखबार Wen Wei Po की एक रिपोर्ट ने आज से लगभग 6 साल पहले तहलका मचा दिया था, जिसमें इस तरह का दावा था कि किम जोंग ने अपने फूफा Jang Song-thaek को नंगा करके जंगली कुत्तों के उस बाड़े में डलवा दिया, जो 3 दिनों से भूखे रखे गए थे। मीडिया संस्थान का कहना था कि 12 दिसंबर 2013 को ये घटना घटी, जिसमें सत्ता के खिलाफ गद्दारी के आरोप में Jang Song-thaek को ये सजा मिली। 

इसे भी पढ़ें: कोरोना महामारी के बीच उत्तर कोरिया ने दागी संदिग्ध क्रूज मिसाइलें

पिता की मौत थी रहस्यमयी

साल 2011 में दिसंबर का सर्द महीना था दुनिया पर नये साल की खुमारी चढ़ने लगी लेकिन नार्थ कोरिया में सन्नाटा पसरा था। 17 दिसंबर की सुबह नार्थ कोरिया की बेचैनी बढ़ाने वाली थी। किम जोंग उन अपनी छोटी बहन किम यो जोंग के साथ प्योंगयांग काउंटी के पुस्तैनी विला में था। सामने नार्थ कोरिया का दूसरा तानशाह  किम जोंग इल आखिरी सांसे गिन रहा था। घड़ी की सुइयों ने जैसे ही 11 के कांटे को छुआ। किम जोंग उन के तानाशाह पिता की मौत हो गई। नार्थ कोरिया में मातम पसर गया। जब किम के पिता की हार्ट अटैक से मौत हुई तो बाहर की दुनिया में किसी को इस बात की खबर नहीं थी। इसकी खबर दो दिन बाद बाहरी दुनिया को नार्थ कोरिया द्वारा खुद बताए जाने के बाद ही पता चला। उस वक्त किम चाहता था कि उसके पिता का जब जनाजा निकले तो हर कोई रोए। लेकिन बहुत से ऐसे भी थे जो जनाजे में रोए नहीं। ऐसे लोगों को किम ने गोली मरवा दी थी।

इसे भी पढ़ें: उत्तर कोरिया में किम ने शीर्ष प्रबंध निकाय में फेरबदल किया

कैसे शुरू हुई अटकलें

15 अप्रैल को अपने दादा के जन्मदिन के समारोह में किम जोंग उन शामिल नहीं हुए। ये देश के लिए साल के सबसे बड़े आयोजनों में से एक होता है. किम जोंग उन के दादा उत्तर कोरिया के संस्थापक थे। इसके बाद ही उनकी ग़ैर मौजूदगी को लेकर अटकलों का दौर शुरू हुआ। वैसे भी इसकी पुष्टि करना आसान नहीं।

इसे भी पढ़ें: उत्तर कोरिया में किम ने शीर्ष प्रबंध निकाय में फेरबदल किया

किस गलत सर्जरी ने किम का ब्रेन डेड किया

खबरों के अनुसार, उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन ने बीते दिनों हार्ट (दिल) की सर्जरी हुई, लेकिन ये सफल नहीं हुई। इसी के चलते सर्जरी असफल के बाद से ही उनकी हालत अब काफी ख़राब हो चली है। बताया जा रहा है, उनका कार्डियोवस्कुलर की वजह से इलाज चल रहा था।

इसे भी पढ़ें: उत्तर कोरिया का दावा, वह कोरोना वायरस संक्रमण से मुक्त है

ट्रंप को है सेहत की जानकारी?

21 अप्रैल को खबर आई कि किम बहुत बीमार हैं, इतने की जिंदा ही न बचे या हो सकता है कि गुजर चुके हों। ये बहुत इतनी उछली की प्रेस ब्रिफिंग में ट्रंप से भी सवाल पूछे गए। ट्रंप ने कहा मुझे लगता है कि खबर गलत है, इस मामले में मुझे बस यही कहना है।’’उन्होंने कहा, ‘‘मुझे पता चला कि उन्होंने पुराने दस्तावेजों का इस्तेमाल किया है।’’ हालांकि ट्रंप ने इसपर बोलने से इनकार कर दिया कि किम की सेहत के बारे में क्या उन्हें सीधे उत्तर कोरिया से कोई जानकारी मिली है।

इसे भी पढ़ें: उत्तर कोरिया का दावा, वह कोरोना वायरस संक्रमण से मुक्त है

अगला शासक कौन?

बहन है किम की सबसे करीबी: किम के उत्तराधिकारी के लिए उनकी छोटी बहन किम यो जोंग को मजबूत संभावित उम्मीदवार माना जा रहा है। किम यो जोंग अपने बड़े भाई के सबसे करीबी सहयोगी के रूप में जानी जाती हैं। जोंग को हाल ही में निर्णय लेने वाले प्रमुख निकाय में दोबारा नियुक्त किया गया था। किम यो सत्तारूढ़ परिवार की पहली सदस्य हैं जिन्होंने सियोल की यात्रा की। डॉनल्ड ट्रंप और चीनी राष्ट्रपति से किम जोंग की मुलाकात के समय भी वह अपने भाई के साथ थीं।

इसे भी पढ़ें: उत्तर कोरिया का दावा, वह कोरोना वायरस संक्रमण से मुक्त है

किम का बेटा: उत्तर कोरिया के नए उत्तराधिकारी के लिए किम जोंग-उन के बेटे किम जोंग इल का नाम भी लिस्ट में है। दक्षिण कोरियाई खुफिया विभाग के अनुसार, किम जोंग ने 2009 में पूर्व गायक री सोल जू से शादी की थी। माना जाता है कि उनके तीन बच्चे हैं। दक्षिण कोरिया के डोंग-ए इल्बो अखबार के अनुसार किम जोंग ने अभी तक अपने बच्चों को लेकर आधिकारिक तौर पर मीडिया में कोई एलान नहीं किया है। यह भी कहा जाता है कि 2010 में तानाशाह की पत्नी ने एक बेटे को जन्म दिया था। उत्तर कोरिया का दौरा करने वाले पूर्व बास्केटबॉल स्टार डेनिस रोडमैन ने 2013 में कहा था किम जोंग की जू ए नाम की एक बेटी भी है।

इसे भी पढ़ें: ट्रम्प ने किम को पत्र भेजकर सहयोग की पेशकश की : उत्तर कोरिया

सौतेले भाई का बेटा: किम जोंग-उन के अगले उत्तराधिकारी के रूप में उनके भतीजे किम हान सोल का नाम भी शामिल है। किम हान सोल का जन्म 1995 में हुआ था। हान सोल, किम जोंग के सौतेले बड़े भाई और उनके सबसे बड़े दुश्मन का बेटा है। किम जोंग का भाई कसीनो चलाता था और लगातार उनके शासन की आलोचना भी करता था। 2017 में कुआलालंपुर हवाई अड्डे पर किम हान सोल के पिता की दो महिलाओं ने हत्या कर दी थी। चीनी पुलिस ने किम हान सोल को मारने की साजिश रचने के आरोप में बीजिंग भेजे गए कई कोरियाई लोगों को पकड़ा था।

इसे भी पढ़ें: दक्षिण कोरियाई सेना का दावा, उत्तर कोरिया ने किया तीन मिसाइलों का परीक्षण

गिटार बजाने वाला भाई: किम जोंग-उन का भाई किम जोंग चोल भी अगले तानाशाह की रेस में शामिल है। किम जोंग चोल, किम जोंग का इकलौता ऐसा भाई है जो जिंदा है। किम जोंग चोल राजनीति की बजाय गिटार में ज्यादा रुचि रखता है। फिलहाल उनके पास कोई आधिकारिक पद नहीं है। किम जोंग चोल के बारे में बहुत कम लोग ही जानते हैं कि उन्होंने स्विट्जरलैंड में पढ़ाई की है और अपने भाई की तरह अमेरिका के पेशेवर बास्केटबॉल के प्रशंसक हैं।






Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राजनीति

झरोखे से...