दिल्ली में कोरोना वायरस के 111 नए मामले सामने आए, सात और मरीजों की मौत

corona virus
दिल्ली में बुधवार को कोरोना वायरस के 111 नए मरीज सामने आए और सात संक्रमितों की वायरस संक्रमण से मौत हो गई। राष्ट्रीय राजधानी में संक्रमण दर 0.15 प्रतिशत पर आ गई है।

नयी दिल्ली। दिल्ली में बुधवार को कोरोना वायरस के 111 नए मरीज सामने आए और सात संक्रमितों की वायरस संक्रमण से मौत हो गई। राष्ट्रीय राजधानी में संक्रमण दर 0.15 प्रतिशत पर आ गई है। स्वास्थ्य विभाग के बुलेटिन के मुताबिक, नए मामलों के बाद दिल्ली में कुल संक्रमितों की संख्या 14,33,366 हो गई है, जबकि मृतक संख्या 24,940 पर पहुंच गई है। दिल्ली में मृत्यु दर 1.74 फीसदी है। बुलिटेन के मुताबिक, राष्ट्रीय राजधानी में 14,06,629 लोग अबतक संक्रमण मुक्त हो चुके हैं। बीते 24 घंटे में ही 702 मरीज संक्रमण से उबरे हैं। बुलेटिन के मुताबिक, एक दिन पहले 76,185 नमूनों की जांच की गई थी। बता दें कि, दिल्ली में मंगलवार को 134 नए मरीज मिले थे और आठ की मौत हुई थी तथा संक्रमण दर 0.20 प्रतिशत थी।

इसे भी पढ़ें: छह युवकों को कोवैक्सीन की जगह लगा दी कोविशील्ड की दूसरी खुराक, हुआ जोरदार हंगामा

स्वास्थ्य मंत्रालय के बुलेटिन के अनुसार वर्धमान महावीर मेडिकल कॉलेज एवं संबंधित सफदरजंग अस्पताल ने आईसीएमआर के पोर्टल पर पिछले हफ्ते से संबंधित 477 मामलों की जानकारी दी है। स्वास्थ्य विभाग की ओर से साझा किए गए आंकड़ों के मुताबिक, दिल्ली में सोमवार को 89 मामले आए थे और संक्रमण दर 0.16 प्रतिशत थी। यह दोनों ही इस साल सबसे कम थी।

इसे भी पढ़ें: मध्य प्रदेश में मिले कोरोना के 6 डेल्टा प्लस वैरिएंट वाले मरीज, 2 लोगों की इलाज के दौरान हुई मौत

अप्रैल के आखिरी हफ्ते में संक्रमण दर 36 फीसदी पहुंच गई थी जो बुधवार को 0.15 प्रतिशत पर आ गई। राष्ट्रीय राजधानी में 20 अप्रैल को सबसे ज्यादा 28,395 मामले आए थे। वहीं, तीन मई को 448 लोगों की मौत हुई थी जो एक दिन में होने वाली मौतों का अबतक का सबसे ज्यादा आंकड़ा है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़