India Coronavirus Case | भारत में 24 घंटे में 2,38,018 नए मामले, 310 लोगों की गयी जान

India Coronavirus Case | भारत में 24 घंटे में 2,38,018 नए मामले, 310 लोगों की गयी जान

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मंगलवार सुबह 8 बजे के आंकड़ों के अनुसार, भारत ने पिछले 24 घंटों में 2,38,018 नए कोविड -19 मामले दर्ज किए। भारत में ओमीक्रोन मामले की संख्या 8,891 है, जो कल से 8.31 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज कर रही है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मंगलवार सुबह 8 बजे के आंकड़ों के अनुसार, भारत ने पिछले 24 घंटों में 2,38,018 नए कोविड -19 मामले दर्ज किए। भारत में ओमीक्रोन मामले की संख्या 8,891 है, जो कल से 8.31 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज कर रही है। भारत में पिछले 24 घंटों में 2,38,018 COVID मामले जो कल से 20,071 कम हैं इसके अलावा 310 मौतें हुई और 1,57,421 ठीक हुए हैं।

इसे भी पढ़ें: कांग्रेस ने शेयर की सोनू सूद की वीडियो, नवजोत सिंह सिद्धू का टूटा दिल, पार्टी का 'साफ इशारा'- यह होंगे सीएम उम्मीदवार

चंद्रबाबू नायडू कोरोना पॉजिटिव

बेटे नारा लोकेश के बाद, तेलुगु देशम पार्टी (तेदेपा) के प्रमुख चंद्रबाबू नायडू ने भी हल्के लक्षणों के साथ कोविड -19 सकारात्मक परीक्षण किया। नायडू ने एक ट्वीट में कहा "मैंने हल्के लक्षणों के साथ कोविड के लिए सकारात्मक परीक्षण किया है। मैंने खुद को घर पर आइसोलेट कर दिया है और सभी आवश्यक सावधानी बरत रहा हूं। मैं उन लोगों से अनुरोध करूंगा जो मेरे संपर्क में आए थे, वे जल्द से जल्द अपना परीक्षण करवाएं। कृपया सुरक्षित रहें और ध्यान रखें।

इसे भी पढ़ें: विराट कोहली के बाद अब किसे सौंपी जाएगी टेस्ट टीम की कप्तानी, यह 4 खिलाड़ी रेस में सबसे आगे

भारत मार्च तक 12-14 साल के बच्चों का कोविड के खिलाफ टीकाकरण शुरू करेगा: एनटीएजीआई प्रमुख

भारत इस साल मार्च तक 12-14 साल के बच्चों का टीकाकरण शुरू कर देगा, डॉ एनके अरोड़ा ने इंडिया टुडे को बताया। एक प्रसिद्ध सार्वजनिक स्वास्थ्य विशेषज्ञ, डॉ अरोड़ा टीकाकरण पर राष्ट्रीय तकनीकी सलाहकार समूह (एनटीएजीआई) के केंद्र सरकार के कोविड -19 कार्य समूह के अध्यक्ष हैं। भारत ने पिछले साल 16 जनवरी को कोविड-19 के खिलाफ अपना टीकाकरण अभियान शुरू किया था। देश ने तब से कोविड -19 टीकों की 157 करोड़ खुराक दी है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।