लॉकडाउन के चलते दुर्घटनाओं में जान गंवाने वालों की संख्या में आई भारी गिरावट

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 27, 2020   13:08
लॉकडाउन के चलते दुर्घटनाओं में जान गंवाने वालों की संख्या में आई भारी गिरावट

अधिकारी ने बताया कि पिछले साल मार्च में ट्रेन हादसों में 225 लोगों की जान गई थी और अप्रैल में 206 के लोगों की मौत हुई थी। अधिकारी ने बताया कि लॉकडाउन के दौरान मुम्बई में सड़क हादसों में भी काफी कमी आई है।

मुम्बई। कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए देशभर में लगाए गए लॉकडाउन के दौरान रेल और सड़क दुर्घटनाओं में जान गंवाने वाले लोगों की संख्या में भारी गिरावट आई है। उपनगरीय ट्रेन सेवाएं 23 मार्च से ही शहर में बंद है। लंबी दूरी से आने वाली ट्रेनों को इससे एक दिन पहले बंद कर दिया गया था। केवल मालगाड़ियां और रेलवे कर्मचारियों के लिए कुछ विशेष ट्रेनें ही चल रही हैं। अधिकारी ने सोमवार को बताया कि मुम्बई उपनगरीय रेल नेटवर्क में अप्रैल में आठ लोगों की जान गई जबकि पिछले महीने 143 लोगों ने अपनी जान गंवाई थी।  

इसे भी पढ़ें: प्रियंका गांधी ने पूछा सवाल, यूपी में खराब PPE किट की सप्लाई, क्या दोषियों पर कार्रवाई होगी? 

अधिकारी ने बताया कि पिछले साल मार्च में ट्रेन हादसों में 225 लोगों की जान गई थी और अप्रैल में 206 के लोगों की मौत हुई थी। अधिकारी ने बताया कि लॉकडाउन के दौरान मुम्बई में सड़क हादसों में भी काफी कमी आई है। आरटीओ के आंकड़ों के अनुसार इस साल मार्च में 94 सड़क हादसों में 13 लोगों की जान गई थी जबकि पिछले साल इसी महीने 258 सड़क हादसों में 40 लोग मारे गए थे। अधिकारी ने बताया कि सड़क हादसों में राज्य स्तर पर भी गिरावट देखी गई है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।