राष्ट्रपति के लिए अधीर रंजन चौधरी ने किया अशोभनीय शब्द का इस्तेमाल, भाजपा ने साधा कांग्रेस पर निशाना

adhir smriti
ANI
अंकित सिंह । Jul 28, 2022 10:07AM
केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने जबरदस्त तरीके से अधीर रंजन चौधरी के बहाने कांग्रेस नेतृत्व पर सवाल उठाए हैं। केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा कि जब से द्रौपदी मुर्मू का नाम राष्ट्रपति के उम्मीदवार के रूप में घोषित हुआ तब से ही द्रौपदी मुर्मू कांग्रेस पार्टी की घृणा और उपहास का शिकार बनीं। कांग्रेस पार्टी ने उन्हें कठपुतली कहा, अशुभ और अमंगल का प्रतीक कहा।

संसद से सड़क तक कांग्रेस सरकार के खिलाफ हमलावर है। प्रवर्तन निदेशालय के सोनिया गांधी से पूछताछ के खिलाफ कांग्रेस जबरदस्त तरीके से सरकार को घेरने की कोशिश कर रही है। इसके अलावा कांग्रेस के सांसद महंगाई और अग्निपथ योजना को लेकर भी प्रदर्शन कर रही हैं। शुक्रवार को भी संसद भवन परिसर में कांग्रेस का प्रदर्शन चल रहा था। इसी दौरान एक निजी चैनल के पत्रकार ने लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी से कुछ सवाल पूछा। इस दौरान अधीर रंजन चौधरी ने राष्ट्रपति के लिए 'राष्ट्रपत्नी' शब्द का इस्तेमाल किया। दरअसल, एबीपी के न्यूज़ रिपोर्टर मैं अधीर रंजन चौधरी से सवाल किया तो उन्होंने कहा कि धरना देंगे, मार्च करेंगे, प्रदर्शन करेंगे। अभी बहुत कुछ करना बाकी है। इसके बाद रिपोर्टर ने कहा कि कल आप राष्ट्रपति भवन जा रहे थे, जाने नहीं दिया गया। इसके जवाब में कांग्रेस नेता ने कहा कि आज भी जाने की कोशिश करेंगे। 

इसे भी पढ़ें: मानसून सत्र शुरू होने से पहले लोकसभा अध्यक्ष ने की सर्वदलीय बैठक, कहा- देश हित के महत्वपूर्ण मुद्दों पर करें चर्चा

इसके बाद अधीर रंजन चौधरी की ओर से जो टिप्पणी की गई वह राष्ट्रपति पद की गरिमा के खिलाफ है। अपने बयान में अभी रंजन चौधरी ने कहा कि हिंदुस्तान की राष्ट्रपति सबके लिए है। उन्होंने कहा कि हिंदुस्तान की 'राष्ट्रपत्नी' सबके लिए है। हमारे लिए क्यों नहीं। अब इसी को लेकर भाजपा भी हमलावर हो गए हैं। केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने जबरदस्त तरीके से अधीर रंजन चौधरी के बहाने कांग्रेस नेतृत्व पर सवाल उठाए हैं। केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा कि जब से द्रौपदी मुर्मू का नाम राष्ट्रपति के उम्मीदवार के रूप में घोषित हुआ तब से ही द्रौपदी मुर्मू कांग्रेस पार्टी की घृणा और उपहास का शिकार बनीं। कांग्रेस पार्टी ने उन्हें कठपुतली कहा, अशुभ और अमंगल का प्रतीक कहा।

इसे भी पढ़ें: डायलॉग देने में माहिर हैं मिथुन चक्रवर्ती, अधीर रंजन चौधरी बोले- सियासी झूला झूलने में रही है दिलचस्पी, कभी TMC तो कभी BJP में रहे

इसके बाद स्मृति ईरानी ने कहा कि कांग्रेस आज भी इस बात को स्वीकार नहीं कर पा रही कि एक आदिवासी महिला इस देश के सर्वोच्च संवैधानिक पद को सुशोभित कर रही हैं। सोनिया गांधी द्वारा नियुक्त नेता सदन अधीर रंजन ने द्रौपदी मुर्मू को राष्ट्र की पत्नी के रूप में संबोधित किया, यह जानते हुए कि उनका यह संबोधन भारत के हर मूल्य और संस्कार के विरुद्ध हैं, यह जानते हुए भी कि देश के सर्वोच्च पद की गरिमा को यह संबोधन अटैक करता है। तब भी कांग्रेस के इस पुरुष ने इस तरह का घृणित कार्य किया है। उन्होंने साफ तौर पर कहा है कि यह दुनिया और देश जानती हैं कि कांग्रेस पार्टी आदिवासी और गरीबों के विरुद्ध रही है। उन्होंने कहा कि एक गरीब आदिवासी महिला पर यह टिप्पणी करना कांग्रेस ने सोनिया गांधी की अध्यक्षता में यह संस्कार विहीन, मूल्य विहीन और संविधान को चोट पहुंचाने वाला काम किया है।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़